1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. उत्तराखंड में मौसम ने ली करवट, हेमकुंड की चोटियों पर बर्फबारी, पढ़ें

उत्तराखंड में मौसम ने ली करवट, हेमकुंड की चोटियों पर बर्फबारी, पढ़ें

उत्तराखंड में एक बार फिर मौसम ने करवट ले रहा है। यहां पर सोमवार दोपहर के बाद पहाड़ों में मौसम बदल गया और जमकर मूसलाधार बारिश हुई। बारिश के साथ ही यहां मौसम सुहावना हो गया। लोगों को बढ़ती गर्मी से राहत मिली है।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

उत्तराखंड में एक बार फिर मौसम ने करवट ले रहा है। यहां पर सोमवार दोपहर के बाद पहाड़ों में मौसम बदल गया और जमकर मूसलाधार बारिश हुई। बारिश के साथ ही यहां मौसम सुहावना हो गया। लोगों को बढ़ती गर्मी से राहत मिली है।

पर्यटकों के चेहरे भी खिल उठे हैं। पहाड़ों पर इस वर्ष 32 डिग्री तक तापमान दर्ज किया गया जो अपने आप में एक अलग रिकॉर्ड है। अभी तक पहाडों में इस तरीके से तापमान में बढ़ोतरी नहीं देखी गई थी।

उत्तराखंड में इस बार गर्मी से बेहाल लोगों को अब बदले हुए मौसम से राहत मिलने लगी है। यहां के कई हिस्सों में बारिश होने से तापमान में गिरावट दर्ज की गई है। बद्रीनाथ धाम में भी सोमवार को अचानक मौसम बदला और झमाझम बारिश हुई, जिसके बाद बद्रीनाथ धाम में थोड़ी सी ठंड महसूस की जा रही है।

हेमकुंड साहिब में भी दोपहर के बाद बारिश होने के बाद हेमकुंड साहिब की ऊंची चोटियों पर बर्फबारी भी शुरू हो गई, हालांकि हेमकुंड साहिब में दोपहर के बाद श्रद्धालु नहीं रहते हैं, लेकिन धाम में एक बार फिर से कड़ाके की ठंड पड़ रही है।

गोविंदघाट गुरुद्वारा ट्रस्ट के प्रबंधक सेवा सिंह ने बताया कि हेमकुंड साहिब में बारिश होने से तापमान में गिरावट दर्ज की जा रही है और हेमकुंड की यात्रा सकुशल जारी है। बारिश को लेकर प्रशासन भी अर्लट हो गया है।

वही, केदारनाथ धाम की यात्रा शुरू हुए अभी 39 दिन ही हुए हैं और इस अवधि में 78 तीर्थ यात्रियों की हृदयाघात से मौत हो चुकी है। इस हिसाब से धाम में प्रतिदिन दो तीर्थ यात्री दम तोड़ रहे हैं। सोमवार को भी तीन तीर्थ यात्रियों की हृदयाघात से मौत हो गई। इसी के साथ ऋषिकेश समेत चारों धाम में अब तक 167 तीर्थ यात्रियों की मौत हो चुकी है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...