Home Breaking News उत्तर प्रदेश: योगी सरकार खत्म कर सकती है 39 विभाग

उत्तर प्रदेश: योगी सरकार खत्म कर सकती है 39 विभाग

0 second read
0
72

लखनऊ। नीति आयोग ने प्रदेश सरकार को 39 अनुपयोगी विभागों को खत्म करने का सुझाव दिया था। जिसके बाद से ही अटकलें लगाई जा रही थी कि योगी सरकार 94 विभागों में से 39 अनुपयोगी विभागों को खत्म कर सकती है। जानकारी के मुताबिक आज शाम सीएम योगी आदित्यनाथ ने कैबिनेट मंत्रियों की बैठक बुलाई है। इस बैठक में अनुपयोगी विभागों को खत्म करने की चर्चा हो सकती है। साथ ही कैबिनेट मंत्रियों के संख्या भी कम की जा सकती है। दरअसल, राज्य सरकार एक ही तरह के काम कर रहे कई विभागों को खत्म करने का मन बना रही है। जैसे चिकित्सा एवं स्वास्थ्य, चिकित्सा शिक्षा, परिवार कल्याण एवं मातृ एवं शिशु कल्याण को एक करने पर पहले ही सहमति बन चुकी थी। इनके अलावा कई और भी ऐसे विभाग हैं, जिन्हें मर्ज करने का सुझाव नीति आयोग ने प्रदेश सरकार को दिया था।

बताया जा रहा है कि प्रदेश सरकार, केंद्र सरकार की तरह काम करेगी। केंद्र में एक मंत्रालय की जिम्मेदारी एक कैबिनेट मंत्री के पास होती है और विभाग के अधिकारी भी अलग-अलग होंगे। अभी एक अधिकारी को कई मंत्रियों को रिपोर्ट देनी पड़ती है। नीति आयोग की अनुशंसा के आधार पर स्टेट प्लानिंग डिपार्मेंट ने इस बदलाव के लिए फाइनल ड्राफ्ट प्लान बना लिया है। अब इसी प्रस्ताव को योगी मंजूरी दे सकते हैं। इस बैठक के पहले राज्य सरकार के प्रवक्ता सिद्धार्थ नाथ सिंह ने कहा है कि पूर्व में नीति आयोग की ओर से प्रदेश सरकार को ऐसा सुझाव दिया गया था, जिसका सरकार ने स्वागत भी किया था। नीति आयोग का सुझाव था कि विभागों का विलय हो जिससे कि कामों में और तेजी और कुशलता लाई जा सके। फिलहाल यह फैसला सीएम योगी के विवेकाधिकार पर निर्भर है और इस पर कोई फैसला होने के बाद ही सरकार की ओर से आधिकारिक प्रतिक्रिया दी जा सकेगी।

Load More In Breaking News
Comments are closed.