Home उत्तर प्रदेश राप्ती-गंगा एक्सप्रेस में गर्मी व उमस के कारण महिला यात्री की मौत

राप्ती-गंगा एक्सप्रेस में गर्मी व उमस के कारण महिला यात्री की मौत

3 second read
0
37

मुरादाबाद। बढ़ती गर्मी व उमस भरे मौसम के बीच भारतीय रेल की लेटलतीफी का खामियाजा एक महिला यात्री को अपनी जान देकर भुगतना पड़ा। दरअसल उत्तर प्रदेश के मुरादाबाद में ए. निशा नामक 60 वर्षीय महिला ने ट्रेन में ही दम तोड़ दिया। जानकारी के मुताबिक बिहार के मुजफ्फरपुर से देहरादून जा रही 15001 नम्बर की राप्ती-गंगा एक्सप्रेस ट्रेन के कोच संख्या एस-5 में यात्रा कर रही ए. निशा (60) की गर्मी और उमस के कारण तबीयत खराब होने से मौत हो गई। करीब छह घंटा विलंब से चल रही ट्रेन में ए. निशा की तबीयत रामपुर के पास ज्यादा खराब हो गई। उनकी सांस तेज चलने लगी। उसके साथ में सफर कर रहे परिवारीजन ने कोच अटेंडेंट को सूचना दी, लेकिन समय से चिकित्सा नहीं मिल पाई। आनन-फानन उन्हें बी-1 कोच में शिफ्ट किया गया, लेकिन वहां भी राहत नहीं मिली। ट्रेन जब तक मुरादाबाद पहुंचती उनकी मौत हो गई।

मुरादाबाद स्टेशन पर शव उतारे जाने के दौरान यात्रियों ने हंगामा किया तथा कोच अटेंडेंट के साथ धक्का-मुक्की की। जीआरपी के जवानों ने लोगों को किसी तरह शांत कराया। ए. निशा देहरादून के नई बस्ती गांधी ग्राम की रहने वाली थीं। उनके परिवारीजन मूलत: देवरिया के निवासी हैं, लेकिन अब देहरादून में बस चुके हैं। ए. निशा दो दिन पहले अपने भाई एवं परिवार के अन्य सदस्यों के साथ देवरिया जिले के सलेमपुर तहसील क्षेत्र के बालेपुर मठिया में जमाल अहमद के यहां उनके पुत्र से बेटी फिरोजा निशा का रिश्ता तय करने गई थीं। 29 जून को शादी की तिथि पक्की कर देहरादून लौट रही थीं कि ट्रेन में अचानक तबीयत बिगड़ गई। उनकी मौत ने रेलवे के सिस्टम पर सवाल खड़ा कर दिया है।

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.