Home उत्तर प्रदेश तीन दिन में तीन मर्डर करने की दी थी चेतावनी, अब धरा गया सनकी बर्खास्त सिपाही

तीन दिन में तीन मर्डर करने की दी थी चेतावनी, अब धरा गया सनकी बर्खास्त सिपाही

0 second read
0
13

रिपोर्ट : मोहम्मद आबिद
गोरखपुर: लगातार तीन मर्डर करने की धमकी देकर पुलिस महकमे में सनसनी फैलाने वाले बर्खास्‍त सिपाही दिग्विजय राय को गोरखपुर की कैंट पुलिस ने मोहद्दीपुर से गिरफ्तार कर लिया है।बतादें की आरोपी बर्खास्त सिपाही ने एक धमकी भरा वीडियो वायरल किया था जिसमें तीन दिन में तीन लगातार हत्याएं करने की चेतावनी दी थी।

गोरखपुर की मोहद्दीपुर चौकी प्रभारी अरविंद सिंह ने सिपाही के खिलाफ धमकी और आईटी एक्ट की धारा में केस दर्ज कराया था। पुलिस को धमकाने के लिए बर्खास्त सिपाही ने किसको मारने की योजना बनाई थी, कैंट पुलिस बर्खास्त सिपाही से इस बारे में पूछताछ कर रही है।बस्ती के कप्तानगंज थाने पर तैनाती के दौरान अपने अमर्यादित आचरण का कारण बर्खास्त सिपाही दिग्विजय राय ने शनिवार की शाम फेसबुक पर लाइव होकर 2.45 मिनट का धमकी भरा वीडियो शेयर किया था।

बतादें की कुशीनगर जिले के तरयासुजान, बसडीला गुनागर गांव निवासी दिग्विजय राय अपनी वीडियो में गोरखपुर पुलिस को चैलेंज करते हुए तीन दिन में लगातार तीन लोगों की हत्‍या करने की धमकी दी थी। दिग्विजय ने कहा था कि 14 फरवरी की सुबह 10 बजे के पहले मोहद्दीपुर इलाके में पहली हत्‍या होगी।

 

उसने बताया था कि हत्या के बाद ही पता चलेगा कि उसने किसी जान ली है और क्यों ली है? यहीं नहीं उसने पुलिस को चुनौती भी दी थी कि वह रोक सके तो इस हत्या को रोक कर दिखाए। डीआईजी/एसएसपी के आदेश पर मोहद्दीपुर चौकी प्रभारी ने अरविंद सिंह ने रविवार देर रात कैंट थाने में दिग्विजय राय के खिलाफ धमकी देने के साथ ही आईटी एक्‍ट का केस दर्ज कराया जिसके बाद से गिरफ्तारी के लिए बस्ती और कुशीनगर की पुलिस भी लगी थी।

कुशीनगर की पुलिस ने रविवार को सिपाही के घर पर दबिश भी दी लेकिन वह घर पर नहीं मिला। सर्विलांस की मदद से सोमवार की शाम गोरखपुर पुलिस ने मोहद्दीपुर से बर्खास्त सिपाही दिग्विजय राय को गिरफ्तार कर लिया। पूछताछ में पता चला कि वह तीन फरवरी से ही शहर के एक होटल में रूका था। वहीं अब पुलिस पूरे मामले में आरोपी से पूछताछ कर रही है और जानने की कोशिश कर रही है की उसने ऐसा क्यों किया या किसके कहने पर उसने पुलिस को चेतावनी दी थी।

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.