1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. UK: बुजुर्ग की हत्या में पुत्र-पुत्रवधू समेत छह गिरफ्तार, बंदूक, फिल्मी अंदाज में रची थी ऐसी साजिश, पुलिस ने किया पर्दाफाश

UK: बुजुर्ग की हत्या में पुत्र-पुत्रवधू समेत छह गिरफ्तार, बंदूक, फिल्मी अंदाज में रची थी ऐसी साजिश, पुलिस ने किया पर्दाफाश

उतराखंड के नानकमत्ता में पिछले दिनो एक वारदात हुई, जिसका पुलिस ने पर्दाफाश कर लिया है। बता दें कि इस वारदात में एक बुजुर्ग की हत्या कर दी गई थी। इस मामले में पुलिस ने षड्यंत्रकारी पुत्रवधू और उसकी बहन के साथ ही पुत्र समेत छह लोगों को गिरफ्तार किया है।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट:पायल जोशी
उतराखंड के नानकमत्ता में पिछले दिनो एक वारदात हुई, जिसका पुलिस ने पर्दाफाश कर लिया है। बता दें कि इस वारदात में एक बुजुर्ग की हत्या कर दी गई थी। इस मामले में पुलिस ने षड्यंत्रकारी पुत्रवधू और उसकी बहन के साथ ही पुत्र समेत छह लोगों को गिरफ्तार किया है। बता दें कि ये मामला जमीन विवाद कि चलते हुआ, जिसमें प्रधान समेत अन्य को फंसाने के लिए शूटर के जरिये हमला कराया गया। जिसके बाद आरोपितों के खिलाफ हत्या और षड्यंत्र रचने का केस दर्ज किया और बाद में उन्हे जेल भेज दिया गया।

बता दें कि ये पूरा मामला उतराखंड कि नानकमत्ता का है, जहां इस मामले कि एसएसपी दलीप सिंह कुंवर ने बताया कि नौ नवंबर को थाना नानकमत्ता के अंतर्गत ग्राम ध्यानपुर निवासी लविंदर कौर उर्फ गोगी पत्नी बलविंदर सिंह ने सूचना दी कि उसकी बहन रजविंदर कौर और पत्नी कुलवंत कौर के ससुर जगीर सिंह को गोली मार दी गई है, और सूचना मिलने पर पुलिस घटना स्थल पर मौके पर पहुंच गई, और उसी दौरान घायल जगीर सिंह को एंबुलेंस के जरिए सरकारी अस्पताल पहुंचाया गया, जहां डॉक्टर ने मृत घोषित कर दिया।

इसी दौरान लविंदर कौर और रजविंदर कौर ने बताया कि हमारे ससुर का गांव कि कुछ लोगों के साथ जमीनी विवाद चल रहा था, जहां गांव कि कुछ ग्राम प्रधान समर सिंह, बलविंदर सिंह, लखविंदर सिंह उर्फ लख्खी, द्वारिका प्रसाद, सुंदर सिंह, जितेंद्र सिंह, धर्मेंद्र सिंह ने इसी विवाद कि कारण उनके घर में घुस कर सोते हुए जगीर सिंह को गोली मार दी। जब पुलिस को इस बात का पता चला तब पुलिस ने रजविंदर की तहरीर पर आरोपितों के खिलाफ केस दर्ज कर लिया।

जब पुलिस ने इस मामले की जांच की तो पता लगा कि ये मामला बेहद संदिग्ध है, जिसके चलते एसपी सिटी ममता बोहरा के नेतृत्व में पुलिस और एसओजी ने जांच शुरू कर दी। जिसके बाद नानकमत्ता के जीतगौड़ी निवासी जसवंत सिंह पुत्र प्रीतम सिंह को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी, और उसी दौरान उसने बताया की जगीर सिंह को मारने की एक बहुत बढ़ी योजना बनाई जा रही थी, जिसमें लविंदर कौर, रजविंदर कौर, गुरदीप कौर, सूरज सिंह, कुलवंत सिंह इस योजना में शामिल थे। इस योजना में प्रधान पक्ष को फंसाया जाएगा। जिसके चलते उन्होने उसे 15 हजार हजार रुपये एडवांस देकर पोनिया बंदूक, कारतूस दी थी।

बता दें कि घटना से पहले जगीर सिंह को लविंदर कौर रजविंदर कौर ने उसे शराब पिलाई जिसके बाद उसे नशा होने लगा, और उसी नशे की हालत में जगीर सिंह को पैर में गोली मार दी गई, और उस जगह से अत्यधिक खून निकलने से उन्हे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां इलाज से पहले ही उन्हे मृत घोषित कर दिया गया। पुलिस ने मुकदमा दर्ज कर जसवंत सिंह की निशानदेही पर हत्या में इस्तमाल की गए पोनिया बंदूक, दो खोखा कारतूस और एक जिंदा कारतूस और 15 हजार बरामद किए। साथ ही मृतक के पुत्र कुलवंत सिंह, पुत्रवधू रजविंदर कौर के अलावा मुख्य षडय़ंत्रकारी लविंदर कौर उर्फ गोली पत्नी बलविंदर सिंह, गुरदीप कौर पत्नी स्व.जोगेंद्र सिंह को भी गिरफ्तार कर लिया।

इस घटना के एसएसपी कुंवर ने बताया कि घटना की मास्टर माइंड रजविंदर कौर की बड़ी बहन लविंदर कौर है। एसएसपी ने हत्या का पर्दाफाश करने वाली पुलिस टीम को 2500 का इनाम देने की घोषणा की है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...