1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. फिर एक बार दहेज लोभियों की शिकार बनी नवविवाहिता, मासूम की भी गयी जान, जानें क्या है पूरा मामला…

फिर एक बार दहेज लोभियों की शिकार बनी नवविवाहिता, मासूम की भी गयी जान, जानें क्या है पूरा मामला…

देहज पर कई कानून तो सरकार ने बनाये है, लेकिन इसका फायदा कितने लोगों को हुआ है ये तो सरकार ही जानती है। दहेज पर ही एक ऐसा मामला सामने आया जहां बेटी बनी दहेज लोभियों की शिकार।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट:पायल जोशी

देहरादून: देहज पर कई कानून तो सरकार ने बनाये है, लेकिन इसका फायदा कितने लोगों को हुआ है ये तो सरकार ही जानती है। दहेज पर ही एक ऐसा मामला सामने आया जहां बेटी बनी दहेज लोभियों की शिकार। जी हां एक ऐसा ही मामला सामने आया उत्तराखंड के देहरादून से जहां एक पति और देवर ने ही ली पांच महिने की गर्भवती नवविवाहिता की जान।

दरअसल ये पूरा मामला उत्तराखंड के देहरादून का है जहा बेटी अपर्णा की शादी पांच मई 2021 को बचन सिंह भंडारी निवासी बिरही, चमोली के साथ की थी। शादी के बाद बेटी-दामाद देहरादून के सरस्वती विहार में किराये के मकान में रहने लगे, और दामाद का छोटा भाई पुष्कर भी उनके साथ रहता था। शादी के दो महीने बाद ही बेटी को दामाद दहेज के लिए परेशान करने लगा, और ये बात अपर्णा ने अपनी बहनों को बताई थी, लेकिन दामाद ने पता चलने पर बेटी से फोन छीन लिया। जिससे वो अपने मायके वालो से बात ना कर पाये।

बता दें के अपर्णा के पास जितने गहने थे, वह सभी दामाद ने अपने पास रख लिए थे। जब अपर्णा को वह अपने साथ ले गया तो दामाद ने फोन किया कि छह लाख रुपये लेकर ही देहरादून आए। कुछ दिनों बाद दामाद के बड़े भाई देव भंडारी जोशीमठ पहुंचे और अपनी जिम्मेदारी पर अपर्णा को देहरादून ले गए।

बताया जा रहा है के 26 अक्टूबर को अपर्णा ने फोन पर कहा कि पति बहुत परेशान कर रहा है, इसलिए वह साथ ले जाए। 27 अक्टूबर को अपर्णा के जेठ देव भंडारी ने फोन पर कहा कि अपर्णा की मौत हो गई है। 28 अक्टूबर को वह दून अस्पताल पहुंची तो वहां अपर्णा मृत थी और ससुराल वाले वहां मौजूद नहीं थे।

सीओ डालनवाला पल्लवी त्यागी ने बताया कि घटना के बाद मायका पक्ष को बुलाया गया था, लेकिन वह नहीं आए। इसके बाद उन्होंने पुलिस मुख्यालय को शिकायत दी। डीजीपी के आदेश पर मामले में पति और देवर के खिलाफ दहेज हत्या की धाराओं में मुकदमा दर्ज कर विवेचना शुरू कर दी गई है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...