1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तराखंड
  3. IIT Roorkee में कोरोना का साया, कॉलेज के क्वारंटीन सेंटर में M-Tech स्टूडेंट की हुई मौत, RT-PCR रिपोर्ट आई थी नेगेटिव

IIT Roorkee में कोरोना का साया, कॉलेज के क्वारंटीन सेंटर में M-Tech स्टूडेंट की हुई मौत, RT-PCR रिपोर्ट आई थी नेगेटिव

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: नंदनी तोदी
रुड़की : देश में कोरोना का साया मंडरा रहा है, कोरोना के बढ़ते मामले चिंताजनक हो गए हैं। वही बात करें उत्तराखंड की तो, देवभूमि में भी कोरोना की लहर तेज़ हो गई है। इसी बीच उत्तराखंड के रूडकी में स्थित देश का सबसे बड़ा शिक्षा संस्थान आईआईटी रूडकी कोरोना का हॉटस्पॉट बन चूका है। आईआईटी रूडकी के हॉस्टल में क्वारंटाइन एक छात्र की संदिग्ध परिस्थिति में मौत हो गई, जिसके बाद पुरे परिसर में हड़कंप मच गया है।

दरअसल, आईआईटी रुड़की का एमटेक सेकंड ईयर का स्टूडेंट हॉस्टल के अपने कमरे में क्वारंटीन था, जो संदिग्ध हालात में बेहोश पाया गया। उसकी ये हालत देख उसे पहले संस्थान के अस्पताल ले जाया गया, फिर सिविल हॉस्पिटल रेफर किया गया। खबर है कि स्टूडेंट कॉलेज में बनाये गए एक क्वारंटाइन सेंटर में था।

बताया जा रहा है कि वो कोरोना पॉजिटिव छात्र के कांटेक्ट में आया था, जिसके कारण उसे क्वारंटाइन सेंटर में रखा गया था। फिर हॉस्टल में बेहोशी की हालत में उसे अस्पताल ले जाया गया, जहा डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

फिलहाल छात्र के शव को रूड़की के सिविल अस्पताल के पोस्टमार्टम हाउस में रखा गया है, साथ ही छात्र के परिजनों को इस घटना की जानकारी भी दे दी गई है। सबसे चौंका देने वाली बात ये है कि मृत छात्र की आरटीपीसीआर रिपोर्ट नेगेटिव आई थी। डॉक्टरों का कहना है कि छात्र के मुंह से झाग निकल रहा था। पोस्टमार्टम रिपोर्ट के बाद ही मौत के कारण पता चलेगा।

आईआईटी रुड़की की मीडिया सेल की प्रभारी सोनिका श्रीवास्तव ने बताया कि एमटेक सेकंड ईयर के छात्र प्रेम सिंह निवासी चंडीगढ़ 11 अप्रैल से कोरोना पॉजिटिव छात्रों के संपर्क में आने के चलते अपने कमरे क्वारंटीन थे, लेकिन उनकी आरटीपीसीआर रिपोर्ट निगेटिव थी। बुधवार दोपहर बाद वे अपने कक्ष में बेहोशी की हालत में पाए गए।

आपको बता दें, आइआइटी रुड़की में अब तक करीब 120 से अधिक छात्र-छात्राओं में कोरोना संक्रमण की पुष्टि हो चुकी है। जिसमें कुछ फैकल्टी के अलावा काफी संख्या में स्टॉफ और उनके स्वजन भी कोरोना पॉजिटिव आ चुके हैं।

रुड़की सिविल लाइन कोतवाली इंसपेक्टर राजेश शाह ने एमटेक के छात्र की मौत की पुष्टि की है। उन्होंने बताया कि छात्र 11 अप्रैल से क्वारंटाइन सेंटर में रह रहा था। उक्त छात्र कोरोना पॉजिटिव छात्र के सम्पर्क में आया था जिसके बाद उसे क्वारंटाइन किया गया था। ब्रस्पतिवार को सिविल अस्पताल में शव का पोस्टमार्टम होने के बाद ही छात्र के मौत की सही वजह का पता लग सकेगा। घटना की जानकारी मृतक छात्र के परिजनों को दे दी गई है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...