1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. बेटियों को लेकर योगी सरकार का बड़ा ऐलान, …नौकरी मिलने का रास्ता हो गया साफ; जानिए कैसे

बेटियों को लेकर योगी सरकार का बड़ा ऐलान, …नौकरी मिलने का रास्ता हो गया साफ; जानिए कैसे

Yogi government's big announcement regarding daughters; योगी सरकार का बड़ा फैसला। बेटियों को लेकर योगी सरकार का बड़ा कदम। अब मिल सकती है ये सुविधा।

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव होने में तकरीबन कई माह शेष है, उससे पहले ही योगी आदित्यनाथ सरकार (Yogi Adityanath Govt) ने लड़कियों को लेकर बड़ा ऐलान किया है। जिससे अब उन बेटियों को भी लाभ होगा, जो अपने बाबुल का घर छोड़कर अपने पिया के घर जा चुकी है।

दरअसल मृतक आश्रित कोटे यानी अनुकंपा (Compassionate) के आधार पर अब विवाहित बेटियां भी सरकारी नौकरी की हकदार होंगी। इसे लेकर सीएम आदित्यनाथ ने बुधवार को कैबिनेट बाई सर्कुलेशन को मंजूरी दे दी। इसके बाद सरकारी विभागों में अनुकंपा के आधार पर विवाहित बेटियों को नौकरी मिलने का रास्ता साफ हो गया है।

पहले सिर्फ अविवाहित बेटियों को था हक

बता दें कि इससे पहले उत्तर प्रदेश में मृतक आश्रित कोटे के तहत अनुकंपा (Compassionate) के आधार पर विवाहित या अविवाहित बेटों के अलावा अविवाहित बेटियों को ही नौकरी देने की व्यवस्था थी। वहीं विवाहित बेटियों को अनुकंपा के आधार पर नौकरियां नहीं मिल पा रही थीं और इस वजह से कई परिवारों को मुश्किल का सामना करना पड़ता था।

सीएम योगी ने लिया संज्ञान

लाइव हिंदुस्तान की रिपोर्ट के मुताबिक, ऐसे कई मामले कोर्ट तक पहुंचे थे, जिसमें विवाहित बेटियों को नौकरी देने की मांग की गई थी। अब इस मामले पर सीएम योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने संज्ञान लिया है और पुरानी व्यवस्था में संशोधन करते हुए सहमति बनी कि विवाहित बेटियों को भी जोड़ दिया जाए। यूपी कार्मिक विभाग ने सेवाकाल में मृत सरकारी सेवकों के आश्रितों की भर्ती नियमावली-2021 (12वां संशोधन) को कैबिनेट मंजूरी के लिए भेजा था.

योगी सरकार ने कई अहम प्रस्तावों को दी मंजूरी

गौरतलब है कि बुधवार की कैबिनेट की बैठक में योगी आदित्यनाथ सरकार ने कई अहम फैसले लिए हैं। इसके तहत यूपी में मेडिकल साइंस यूनिवर्सिटी, सैफई और इटावा में 500 बेडे वाले सुपर स्पेशियलिटी हॉस्पिटल के निर्माण की परियोजना की पुनरीक्षित लागत को स्वीकृति देने का फैसला हुआ। इसके लिए 4 अरब 89 करोड़ 88 लाख 61 हजार रुपये प्रस्ताविक किए गए हैं। इसके अलावा गन्ना विकास और चीनी उद्योग विभाग की ओर से तैयार किए गए प्रस्ताव को कैबिनेट बाई सर्कुलेशन मंजूरी दी गई। इसके साथ ही कैबिनेट ने पात्र गृहस्थी और अंत्योदय कार्ड धारकों को मार्च 2022 तक निशुल्क राशन योजना को मंजूरी दी। राशन के साथ एक किलो चना, एक लीटर खाद्य तेल, और एक किलो आयोडाइज्ड नमक भी दिया जाता रहेगा।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...