1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. UP Panchayat Chunav: गांव की सरकार चुनने के लिए मतदाताओं ने नाव से पार की पांडु नदी, दो किमी पैदल चलकर पहुंचे मतदान केंद्र

UP Panchayat Chunav: गांव की सरकार चुनने के लिए मतदाताओं ने नाव से पार की पांडु नदी, दो किमी पैदल चलकर पहुंचे मतदान केंद्र

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

फतेहपुर: यूपी पंचायत चुनाव के तीसरे चरण का मतदान जारी है, गांव की सरकार चुनने के लिए लोगो में खासा उत्साह दिख रहा है। उत्साह की एक तस्वीर फतेहपुर से सामने आई, जहां मतदाता नाव से नदी पार करके वोट डालने बूथों पर पहुंचे। जबकि दूसरी ओर देवमई ब्लाक के गांव बेरीनारी के मतदाताओं ने मतदान करने के लिए पहले नाव से पांडु नदी पार की और फिर दो किमी पैदल चलकर मतदान केंद्र पहुंचकर अपने मताधिकार का प्रयेग किया।

आपको बता दें कि यह मामला जिले के देवमई ब्लॉक के बेरीनारी का है। बेरीनारी गांव पांडु नदी के दूसरी छोर पर है, यह गलाथा ग्राम पंचायत का मजरा है। इस गांव में सरकारी भवन न होने के कारण पोलिंग बूथ नहीं बनाया जाता है। इसलिए यहां के मतदाताओं के लिए गलाथा ग्राम में ही पोलिंग बूथ बनाया जाता है। सड़क मार्ग से गलाथा गांव की दूरी करीब 15 किमी है। इसके साथ ही भौगोलिक स्थिति ऐसी है कि वहां जाने के लिए कानपुर सीमा को पार करना पड़ता है। यहां के मतदाताओं को हर चुनाव में मतदान करने के लिए गलाथा गांव जाना मजबूरी है। किसी वाहन से मतदाताओं को छिवली गांव होकर एनएच टू से कानपुर सिकठिया व डोमनपुर होकर गलाथा पहुंचना पड़ता है।

जबकि बूथों पर पहुंचने का दूसरा रास्ता गांव किनारे बहने वाली पांडु नदी को नाव से पार करने के बाद दो किमी पैदल कच्चे रास्ते से बूथ तक पहुंचा जा सकता है। पंचायत चुनाव में मतदान के लिए गांव के 375 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग इसी तरह नाव से नदी पार कर दो किमी पैदल चलकर करते हैं। मतदाताओं ने कहा कि चुनाव में यदि गांव में ही बूथ बन जाता तो अच्छा रहता। इस वजह से बहुत लोग मतदान करने बूथ तक नहीं पहुंच पाते हैं। अभी तक किसी ने इस समस्या की ओर ध्यान नहीं दिया है।

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...