1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. Video: लखीमपुर खीरी हिंसा में मारे गए ड्राइवर की अंतिम चीखें खड़ी कर देंगी आपकी रोंगटे, हाथ जोड़कर मांगत रहा जिंदगी की भीख, लेकिन मार डाला

Video: लखीमपुर खीरी हिंसा में मारे गए ड्राइवर की अंतिम चीखें खड़ी कर देंगी आपकी रोंगटे, हाथ जोड़कर मांगत रहा जिंदगी की भीख, लेकिन मार डाला

'दादा-दादा छोड़ दो..' ये आवाज है उस ड्राइवर की जिसे उन उग्र किसानों ने मार डाला, जो उससे जबरन टेली पर आरोप लगाने की बात कह रहे थे। वे कह रहे हैं कि कहो टेनी ने लोगों को मारने के लिए भेजा था। गाड़ी चढ़ाने के लिए कहा था। ड्राइवर कह रहा है टेनी ने भेजा था लेकिन गाड़ी चढ़ाने के लिए नहीं..। फिर कुछ लोग उसे डंडा दिखाते हैं और जबरन मनमानी बात कहने के लिए कहते हैं। ड्राइवर नहीं कहता है तो फिर वे उसके ऊपर टूट पड़ते हैं।

By Amit ranjan 
Updated Date

लखनऊ : ‘दादा-दादा छोड़ दो..’ ये आवाज है उस ड्राइवर की जिसे उन उग्र किसानों ने मार डाला, जो उससे जबरन टेली पर आरोप लगाने की बात कह रहे थे। वे कह रहे हैं कि कहो टेनी ने लोगों को मारने के लिए भेजा था। गाड़ी चढ़ाने के लिए कहा था। ड्राइवर कह रहा है टेनी ने भेजा था लेकिन गाड़ी चढ़ाने के लिए नहीं..। फिर कुछ लोग उसे डंडा दिखाते हैं और जबरन मनमानी बात कहने के लिए कहते हैं। ड्राइवर नहीं कहता है तो फिर वे उसके ऊपर टूट पड़ते हैं।

कुछ लोग ड्राइवर पर डंडे लेकर उस पर टूट पड़ते हैं। हाथ जोड़कर छोड़ने के लिए गिड़गिड़ाता है लेकिन उसकी कोई नहीं सुनता। कुछ लोग चिल्लाते हैं, ‘मारो…को…मार डालो सा…को’। बीच-बीच में गालियों की आवाज भी आती है। वह जान की भीख मांगता है लेकिन किसी का दिल नहीं पसीजता है। आपको बता दें कि इस घटना का वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है।

वीडियो में दिख रहा है कि ड्राइवर के सिर से खून निकल रहा है। वह बहुत घबराया है। उसके चेहरे और आंखों में मौत का डर साफ झलक रहा है। वह सामने खड़ी भीड़ पर कभी दाएं देखता है तो कभी बाएं। आपको बता दें कि किसानों ने मोनू की गाड़ी समेत तीन गाड़ियों को फूंक दिया। वहीं बाकी वाहनों को पलटा दिया। बता दें कि इस हिंसक प्रदर्श को लेकर एक तरफ जहां विपक्षी पार्टियां लगातार सत्ता पक्ष पर आरोप लगा रही है। वहीं दूसरी तरफ केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा ने अपने बेटे आशीष मिश्रा का बचाव किया है और गाड़ियों के साथ न होने की बात कही है।

वहीं किसान नेता राकेश टिकैत और वपिक्षी पार्टियां अजय मिश्रा से इस्तीफे की मांग कर रहे है। आपको बता दें कि इस मामले में पुलिस ने केंद्रीय मंत्री के बेटे आशिष मिश्रा पर कई धाराओं पर मुकदमा दर्ज कर लिया है। वहीं किसी प्रकार की हिंसा को लेकर लखीमपुरी खीरी में इंटरनेट सेवाएं ठप कर दी गई है। वहीं उन नेताओं को हिरासत में लिया गया है, जो इस ओट में अपनी राजनीति चमकाने की कोशिश कर रहे है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...