1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. विकास दुबे केस में जांच करने कानपुर के बिकरू गांव पहुंची न्यायिक आयोग की टीम

विकास दुबे केस में जांच करने कानपुर के बिकरू गांव पहुंची न्यायिक आयोग की टीम

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

विकास दुबे एनकाउंटर केस की जांच के लिए न्‍यायिक आयोग की टीम शुक्रवार को कानपुर पहुंची। सर्किट हाउस में बैठक के बाद टीम ने एनकाउंटर स्पॉट्स की जांच की। सुबह 11 बजे सर्किट हाउस से टीम विकास दुबे के गांव बिकरू के लिए रवाना हुई।

न्‍यायिक आयोग अध्यक्ष रिटायर जस्टिस बीएस चौहान और पूर्व डीजीपी केएल गुप्ता ने सर्किट हाउस की बैठक में एनकाउंटर से जुड़े विभिन्‍न पहलुओं के बारे में जानकारी ली। वहां के बाद टीम पनकी स्थित एनकाउंटर स्पॉट का निरीक्षण किया जहां पर विकास का गुर्गा प्रभात मिश्रा को पुलिस ने एनकाउंटर में मार गिराया था। इसके बाद टीम ने सचेंडी में उस एनकाउंटर स्पॉट का भी निरीक्षण किया जहां पर विकास दुबे मारा गया था। इसके अलावा टीम ने पुलिस की अब तक की कार्रवाई के बारे में जानकारी की। साथ ही जो लोग बाद में प्रकाश में आए हैं उनके बारे में भी पुलिस अधिकारियों से पूछताछ की।
सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर बना है न्यायिक आयोग
विकास दुबे एनकाउंटर मामले की जांच के लिए सुप्रीम कोर्ट ने रिटायर्ड जज की अध्यक्षता में न्यायिक आयोग के पुनर्गठन के आदेश दिए थे। इससे पहले यूपी सरकार पहले ही एक सदस्यीय न्यायिक आयोग गठित कर चुकी थी। आयोग में कुल तीन सदस्य हैं। पूर्व जज जस्टिस बी एस चौहान आयोग के अध्‍यक्ष हैं। अन्य सदस्यों में हाईकोर्ट के पूर्व जज जस्टिस शशिकांत अग्रवाल और यूपी के पूर्व डीजीपी के एल गुप्ता को शामिल किया गया है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...