1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. मजदूर लेकर जा रही बसों को पुलिस ने पकड़ा

मजदूर लेकर जा रही बसों को पुलिस ने पकड़ा

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

भट्टे के लिए बिहार से मजदूर लेकर जा रही दो बसों को पुलिस ने रोक लिया। जरूरी प्रपत्र न दिखाए जाने पर पुलिस की सूचना पर पहुंची परिवहन विभाग की टीम ने बसों के चालान कर दिए।

बिहार के गया जिला के ग्राम करजनी गांव से बढ़ी संख्या में दो बसों को पुलिस ने बिधूना रोड पर बिजली घर के पास रोक लिया। इन बसों में मजदूर सवार थे। ड्राइवर से बसों के कागज मांगा गया, लेकिन वह दिखा नहीं सका।

इस पर प्रभारी निरीक्षक ने इसकी सूचना एआरटीओ संजय झा को दी। सूचना के बाद मौके पर पहुंचे पीटीओ आरबी दोहरे ने पुलिस से जानकारी की। पुलिस ने बताया कि ड्राइवरों ने बसों के कोई कागज नहीं दिखाया है। पीटीओ ने बताया कि बिहार के लोग जल्दी से वाहनों के कागजात नहीं दिखाते हैं। पीटीओ ने खुद दोनों ड्राइवर मंटू पटेल व संतोष कुमार से बसों के कागजात मांगे। ड्राइवरों ने बसों की डुप्लीकेट कागज दिखाए गए, जिस पर पीटीओ ने दोनों बसों पर 10 -10 हजार रुपए के चालान काटते हुए मजदूरों को बसों सहित जाने दिया। पीटीओ आरबी दोहरे ने बताया कि ड्राइवरों ने बसों के मूल प्रपत्र नहीं दिखाया, इस लिए दोनों बसों के चालान काट दिए गए। बसों को सीज करने का कोई औचित्य नहीं है।

बसों को पकड़ते ही शुरू हो गया सिफारिशों का दौर

बिहार से मजदूर लेकर आ रही बसों को रोकने बाद से ही सिफारिशों के लिए लोग गाड़ियों से आने लगे और अधिकारियों के फोन भी बजने लगे। जिसको लेकर लोगों में चर्चा का विषय रहा। परिवहन विभाग की टीम के आने के बाद मीडिया के लोगों को देखकर अधिकारियों में असमंजस की स्थित रही।

बसों में उड़ाई जा रही थी सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां

भट्टे पर लाए जा रहे मजदूरों से भरी बसों में सोशल डिस्टेंसिंग की जमकर धज्जियां उड़ाई जा रही थीं। ज्यादातर सवारियां मास्क नहीं लगाई थीं। दोनों बसों में लगभग 170 सवारियां मौजूद थीं।

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...