1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. उत्तर प्रदेश के कानपुर में बेकाबू हुआ जीका वायरस, एक दिन में सामने आये इतने केस प्रशासन की उड़ी नींद

उत्तर प्रदेश के कानपुर में बेकाबू हुआ जीका वायरस, एक दिन में सामने आये इतने केस प्रशासन की उड़ी नींद

Uncontrollable Zika virus in Kanpur, Uttar Pradesh; उत्तर प्रदेश के कानपुर में बेकाबू हुआ कोरोना। बीते दिन आए 56 नये ऐक्टिव केस। प्रशासन की उड़ी नींद।

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश के कानपुर में जीका वायरस का संक्रमण एक बार फिर बेकाबू हो गया है। जिसने जिला प्रशासन, स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम की टीमें की नींदें उड़ा रखी है। आपको बता दें कि गुरूवार को दीपावली के दिन जीका वायरस के 56 ऐक्टिव केस सामने आने के बाद हड़कंप मच गया। स्वास्थ्य विभाग ने सैंपलिंग में तेजी दिखाई तो बड़ी संख्या में संक्रमित पेशेंट सामने आने लगे। कानपुर में जीका पॉजिटिव मरीजों की संख्या 91 पहुंच गई है।

जीका वायरस की रिपोर्ट आने के बाद स्वास्थ्य विभाग की टीमों ने पॉजिटिव मरीजों को घरों में रहने की हिदायत दी है। स्वास्थ्य विभाग की टीमें मरीजों से संपर्क कर अस्पतालों में भर्ती कराने के साथ ही घरों में आइसोलेट कर रही हैं। घरों पर आइसोलेट किए गए मरीजों को मेडिकल किट दी जा रही है।

कानपुर में जीका वायरस का पहला केस बीते 23 अक्टूबर को सामने आया था। जाजमऊ के पोखरपुर में रहने वाले एयरफोर्स कर्मी एमएम अली में जीका वायरस का संक्रमण पाया गया था। इसके बाद बीते शनिवार से लेकर गुरूवार तक जीका संक्रमितों की 91 पहुंच गई है। कानपुर में जीका वायरस का संक्रमण चकेरी से होते हुए शहर के घनी आबादी की तरफ तेजी से बढ़ रहा है। वहीं जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग इसे कुछ क्षेत्रों तक सीमित रखने का प्रयास कर रहा है।

21 महिलाएं और 35 पुरूषों में पुष्टि

गुरूवार को कानपुर में जीका वायरस के 56 पॉजिटिव पेशेंट सामने आए हैं। जिसमें से 21 महिलाएं और 35 पुरूष हैं। जिसमें एक दर्जन महिलाएं लगभग 50 साल की उम्र के आसपास हैं। स्वास्थ्य विभाग और नगर निगम की टीमें जीका प्रभावित क्षेत्रों में एंटी लार्वा का छिड़काव कर रही हैं। इसके साथ ही जिला प्रशासन लोगों से मच्छरों से बचने की अपील कर रहा है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...