1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. पत्नी और बच्चे की जुदाई बर्दाश्त नहीं कर सका युवक, सुसाइड करने से पहले रो-रोकर सुनाया हाल-ए-दिल

पत्नी और बच्चे की जुदाई बर्दाश्त नहीं कर सका युवक, सुसाइड करने से पहले रो-रोकर सुनाया हाल-ए-दिल

The young man could not bear the separation of wife and child; पत्नी और बच्चे की जुदाई में युवक ने दी जान। बच्चे की जुदाई बर्दाश्त नहीं कर सका युवक। फांसी लगाकर की आत्महत्या।

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : ‘नाज़िया तुमने बहुत गलत किया, मुझसे मेरे बच्चे को दूर करके सब रिश्ता खत्म करके… ये कहना था उस युवक का जिसने अपनी जान देने से पहले रो-रोकर अपना हाल-ए-दिल बयान किया। वो अपनी पत्नी और बच्चे को बहुत चाहता था। लेकिन न जानें क्यूं उसकी पत्नी उससे नाराज हो गई और उसने अपने बच्चे को उसके पिता से दूर कर दिया। जिसकी जुदाई यह युवक बर्दाश्त नहीं कर सका और उसने सुसाइड कर ली।

पत्नी से मिली मानसिक प्रताड़ना

आपको बता दें कि यह मार्मिक घटना उत्तर प्रदेश के बहराइच जिले की है। जहां 30 वर्षीय एक नवयुवक अपनी पत्नी और बच्चे की जुदाई बर्दाश्त न कर सका और उसने अपने कमरे में पंखे से लटक कर जान दे दी। उसने सुसाइड करने से पहले अपने कमरे में ही अपनी पत्नी से मिली मानसिक प्रताड़ना की कहानी रोते हुए मोबाइल में रिकार्ड की। सुबह पुलिस को उसके फांसी लगाने की सूचना मिली।

मृतक युवक की हुई पहचान

मौके पर पहुंची पुलिस ने युवक की शव को अपने कब्जे में कर लिया है। मृतक युवक की पहचान बहराइच जिला मोहल्ला बशीरगंज के इस्माइल उर्फ इमरान के रुप में हुई है। नवयुवक ने बीती 25/26 अक्टूबर की रात पहले अपने कमरे में अपने अपनी पत्नी से मिली मानसिक प्रताड़ना की कहानी रो-रोकर मोबाइल के कैमरे में रिकार्ड किया।

मोबाइल में रिकॉर्ड किया अपना हाल-ए-दिल

उसके बाद उसी कमरे में लगे पंखे से लटक कर फांसी लगा ली। मृतक इस्माइल ने भावुक मन से अपनी पत्नी को संबोधित वीडियो में कहा कि नाज़िया (उसकी पत्नी का नाम) तुमने बहुत गलत किया, मुझसे मेरे बच्चे को दूर करके सब रिश्ता खत्म करके तुमने बहुत गलत किया, आज हम कहीं के नहीं रहे, हम अपने मां-बाप को छोड़ कर सिर्फ तुम्हारा साथ पकड़ा।

बच्चे के बिना नहीं जी सकता था युवक

इस्माइल ने आगे कहा कि, ‘तुमने हमारा साथ छोड़ दिया, आज मैं मर रहा हूं अब जीने की इच्छा नहीं कसम से, मैं तुमसे उतनी मोहब्बत नहीं करता हूं जितना अपने बच्चे से, हम सब कुछ अपने बच्चे के लिए किया, तुम हमारा बच्चा लेकर गई हो और मैं जानता हूं कि उसे अब तुम मुझे नहीं दोगी, तुमने अच्छा नहीं किया, तुमको पता है कि मैं बच्चे के बिना नहीं जी सकता।’

पत्नी और सास को ठहराया जिम्मेदार

इस्माइल ने कहा कि, ‘हम वीडियो बनाकर जा रहे हैं कि मेरी मौत की जिम्मेदार नाज़िया मेरी बीवी है और मेरी सास है जो मुझे समझ नहीं पाई की इमरान अपनी बीवी नाज़िया व बच्चे के बिना जी नहीं सकता, आज हम फांसी लगाकर मरने जा रहे हैं उसकी जिम्मेदार नाज़िया हमारी बीवी है।’

जानिए क्या है पूरा मामला

रिटायर्ड दीवान महबूब आलम का बेटा मृतक इस्माइल उर्फ इमरान नगर कोतवाली थाना क्षेत्र अंतर्गत बशीरगंज मोहल्ले में काफी दिनों से अपनी बीवी नाज़िया के साथ रहता था। पिछले कुछ दिन पहले नाज़िया अपने पति इमरान से नाराज़ होकर अपने मायके चली गई थी, लेकिन इमरान जो कि अपने बच्चे से बेहद प्यार करता था वो उसे जबरदस्ती उसकी मां नाज़िया के पास से अपने घर ले आया था जिसको लेकर दोनों के बीच काफी तक़रार भी हुई थी।

पुलिस ने दर्ज किया मुकदमा

अब जबकि नाज़िया अपने बच्चे को वापस अपने मायके लेकर चली गई तो इमरान अपने बच्चे व बीवी से दूरी बर्दाश्त नहीं कर सका और उसने घर के कमरे में ही पंखे से लटक कर फांसी लगा ली। पुलिस ने मृतक के पिता महबूब आलम की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर विवेचना शुरू की है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...