1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. तीन साल की बेटी का हत्यारा निकला पिता, आर्थिक तंगी से परेशान होकर चाकुओं से गोदकर वारदात को दिया अंजाम

तीन साल की बेटी का हत्यारा निकला पिता, आर्थिक तंगी से परेशान होकर चाकुओं से गोदकर वारदात को दिया अंजाम

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट :शोमेश कुमार /  मोहम्मद आबिद
एटा:  महंगाई डायन खाय जात है यह कहावत तो आपने खूब सुनी होगी क्योंकि महंगाई की वजह से सैकड़ों लोगों की जान जा चुकी है क्योंकि महंगाई होने की वजह से लोग आर्थिक तंगी से गुजर रहे होंते हैं वहीं अब एक ऐसा मामला सामने आया है जहां कलयुगी पिता ने अपनी ही तीन साल की बेटी  की चाकुओं से गोदकर हत्या कर दी।

 तीन साल की मासूम की मौत के मामले में पुलिस ने सनसनीखेज खुलासा करते हुए कहा की आर्थिक तंगी के चलते पिता ने चाक़ू से गोदकर की अपनी तीन वर्षीय पुत्री की हत्या की वारदात को अंजाम दिया है।बता दें कि  एटा जनपद की कोतवाली अवागढ़ क्षेत्र के जिनावली ग्राम से है जहां कल तीन वर्षीय बालिका के शव को मिट्टी के गड्ढे में दफनाने गए अकेले युवक को देखकर किसी अनहोनी की शक में खेत पर कार्यरत महिलाओं ने पुलिस को सूचना दी थी।

घटना की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को गड़्ढ़े से निकालकर पोस्टमार्डम के लिए अस्पताल भेज दिया था। वहीं ग्रामीणों के आरोप पर एक व्यक्ति को गिरफ्तार भी कर लिया था जिसने पूछताछ के दौरान बताया कि वो मज़दूरी कर अपने घर का खर्च उठाता है और मृत बच्ची का पिता है और  उसकी पत्नी की तीन साल पहले डेंगू की बीमारी के चलते मौत हो चुकी है और अब बच्ची की हालत 10 दिन से खराब चल रही थी जिससे उसकी मौत हो गई ।

वहें पोस्टमार्टम रिपोर्ट के मुताबिक युवक का बयान बिल्कुल उलट निकला और मामले के बारे में पुलिस कप्तान एटा ने कहा है की बच्ची की चाकू से गोदकर हत्या की गई है तो यकीन करना मुश्किल हो गया कि कोई पिता इतना निष्ठुर कैसे हो सकता है कि बिन मां की बेटी अपने ही कलेजे के टुकड़े की हत्या कर देता है।

आरोपी पिता प्रवीण खान से जब पुलिस ने कढ़ाई से पूछा तो उसने अपना जुर्म कबूल कर लिया पर मासूम की हत्या के कारण जब उसने बताए तो पुलिस भी हैरान रह गई,प्रवीण खान ने बताया कि वह दिल्ली के सीलमपुर और शिकोहाबाद में दिहाड़ी मज़दूरी कर परिवार का भरण पोषण कर रहा था इसी दौरान 2018 मैं उसकी पत्नी की डेंगू से मौत हो गई और अपनी बेटी के साथ शिकोहाबाद लेकर आ गया , बीते 10 दिनों से बेटी बीमार थी जिसका आर्थिक तंगी के चलते सही उपचार नहीं करा पा रहा था जिसके चलते उसने अपनी ही बेटी की हत्या कर दी।

वहीं अब पूरे मामले में आरोपी को जेल भेजा जा चुका है और पुलिस आगे की कार्रवाई में जुट गई है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...