1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. “पिछले कुछ दिनों से केंद्र सरकार की खामोशी इशारा कर रही है…” : किसान नेता राकेश टिकैत

“पिछले कुछ दिनों से केंद्र सरकार की खामोशी इशारा कर रही है…” : किसान नेता राकेश टिकैत

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट- पल्लवी त्रिपाठी

उत्तर प्रदेश : किसान आंदोलन लगभग तीन महीने से चल रहा है । इसी बीच भारतीय किसान यूनियन (बीकेयू) के नेता राकेश टिकैत का बयान सामने आया है । जिसमें टिकैत सरकार पर आरोप लगा रहे है कि पिछले कुछ दिनों से केंद्र सरकार की खामोशी इशारा कर रही है कि सरकार किसानों के आंदोलन के खिलाफ कुछ रूपरेखा तैयार कर रही है । सरकार और किसान यूनियनों के बीच बातचीत को लेकर उन्होंने कहा कि फिर से बात करने का प्रस्ताव सरकार को ही लाना होगा ।

बता दें कि बीकेयू के प्रवक्ता राकेश टिकैत ने उत्तराखंड के उधमसिंहनगर जाते समय रविवार रात बिजनौर के अफजलगढ़ में पत्रकारों से बातचीत के दौरान ये बयान दिया है । राकेश ने कहा, ’15-20 दिनों से केंद्र सरकार की खामोशी से संकेत मिल रहा है कि कुछ होने वाला है । सरकार आंदोलन के खिलाफ कुछ कदम उठाने की रूपरेखा बना रही है।’

उनका कहना है कि ‘समाधान निकलने तक किसान वापस नहीं जाएंगे । किसान भी तैयार है, वह खेती भी देखेगा और आंदोलन भी करेगा । सरकार को जब समय हो वार्ता कर लें ।’ उन्होंने कहा कि 24 मार्च तक देश में कई जगह महापंचायत की जाएगी ।साथ ही एक पत्रकार ने उनसे गणतंत्र दिवस कि दिन ट्रैक्टर परेड के दौरान हुई हिंसा को लेकर भी सवाल किया । जिसमें उन्होंने सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि ये सारा बखेड़ा सरकार ने खड़ा किया । इसके अलावा किसानों द्वारा जगह-जगह अपनी खड़ी फसल नष्ट कर देने के सवाल पर टिकैत ने कहा, ‘किसान यूनियन तो किसानों को बता रही है कि अभी ऐसा समय नहीं आया है लेकिन सरकार किसान को ऐसा कदम उठाने से रोकने के लिए कोई अपील क्यों नहीं कर रही है।’

राकेश टिकैत ने आगे कहा कि अब गेंहू की फसल तैयार होने वाली है। अगर किसान का गेंहू एमएसपी पर नहीं खरीदा जाता है, तो सरकार जिम्मेदार होगी । इसके लिए किसान जिलाधिकारी कार्यालय के सामने धरना देंगे ।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...