1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. बनारस पहुंचने से पहले ही प्रियंका को लेकर शुरु हुआ बवाल, शहर में लगे ये विवादित पोस्टर…

बनारस पहुंचने से पहले ही प्रियंका को लेकर शुरु हुआ बवाल, शहर में लगे ये विवादित पोस्टर…

प्रिंयका गांधी का दुर्गा अवतार इन दिनों बनारस में बवाल का कारण बना हुआ है। शहर इस विवादित पोस्टर के बाद लोगों में गुस्से का माहौल है। आपको बता दे कि आज देर रात वाराणसी पहुंचने वाली है

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

वाराणसी : कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के काशी (Kashi) दौरे से पहले ही सियासी बवाल मच गया है। वजह है, कांग्रेस कार्यकर्ताओं का शहरभर में लगाया गया विवादित पोस्टर। इस पोस्टर में प्रियंका गांधी को मां दुर्गा के रूप में दिखाया गया है। कांग्रेस कार्यकर्ताओं का कहना है कि प्रियंका गांधी किसानों के लिए दुर्गा मां का अवतार लिए हैं। उनके हत्यारों को सजा दिलाने के लिए उन्होंने यह अवतार लिया है। यह पोस्टर सिगरा क्षेत्र में देखने को मिल रहा है। स्थानीय लोगों की माने तो हरीश मिश्रा ने इस पोस्टर को जारी किया है।

आसुरी शक्तियों का सर्वनाश हो जाएगा

इससे पहले प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) के कार्यक्रम की तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे पूर्व सांसद डॉ. राजेश मिश्रा ने भी उन्हें देवी दुर्गा बताया और कहा कि नवरात्रि में साक्षात देवी प्रियंका गांधी हम लोगों के सामने दुर्गा के रूप में आएंगी। अभी उन्होंने सीतापुर और लखीमपुर खीरी में असुरों का वध किया है और वह विजयी हुई हैं। जनता के सहयोग से उत्तर-प्रदेश के 2022 के विधानसभा चुनाव (UP Election) में सारी आसुरी शक्तियों का सर्वनाश हो जाएगा।

पहले भी सामने आए ऐसे पोस्टर

बता दें कि यह पहली दफा नहीं है जब कांग्रेसियों ने प्रियंका गांधी  (Priyanka Gandhi) का इस तरह का कोई पोस्टर रिलीज किया हो। इससे पहले प्रयागराज कुंभ मेले के दौरान भी मां दुर्गा के रूप में प्रियंका का पोस्टर खूब चर्चा में  रहा। उससे पहले उन्हें झांसी की रानी लक्ष्मीबाई के रूप में भी दिखाया गया था।

काशी में किसान न्याय रैली

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi) 10 अक्टूबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) के संसदीय क्षेत्र वाराणसी (Varanasi) में किसान न्याय रैली करेंगी। इस रैली में लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri) के पीड़ितों के लिए न्याय के साथ विवादित कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग की जाएगी। इससे पहले प्रियंका गांधी की प्रतिज्ञा रैली होने वाली थी। रविवार को जगतपुर इंटर कॉलेज के मैदान पर होने वाली रैली किसानों को न्याय दिलाने और उनकी लड़ाई पर केंद्रित रहेगी। लखीमपुरी खीरी कांड के बाद कांग्रेस (congress) ने रैली का नाम बदलने का निर्णय लिया।

बाबा काशी विश्वनाथ मंदिर भी जाएंगी प्रियंका

कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी (Priyanka Gandhi)शनिवार देर रात तक वाराणसी पहुंचेंगी। रविवार को वह किसान न्याय रैली में चुनावी शंखनाद करेंगी। इससे पहले वे बाबा श्री काशी विश्वनाथ, मां कुष्मांडा, बाबा काल भैरव दरबार का दर्शन करेंगी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...