1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. जो सुन-बोल नहीं सकता है, कैसे बदला उसका धर्म, मन्नू कैसे बना अब्दुल, पढ़े हैरान करने वाली बातें

जो सुन-बोल नहीं सकता है, कैसे बदला उसका धर्म, मन्नू कैसे बना अब्दुल, पढ़े हैरान करने वाली बातें

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : उत्तर प्रदेश के नोएडा में यूपी एटीएस ने दो मौलवियों को अपनी गिरफ्त में लेकर धर्म परिवर्तन के बड़े रैकेट का भंडाफोड़ किया। जो उन गरीब बच्चों का धर्म परिवर्तन कराता था, जिनकी सुनने और बोलने की क्षमता खत्म हो चुकी है। आरोपी की पहचान मोहम्मद उमर गौतम के रूप में हुई है। ये बटला हाउस इलाके का रहने वाला है और उसने खुद भी धर्म परिवर्तन किया है।

इस रैकेट में दिल्ली के जामिया नगर में इस्लामिक दावा सेंटर (आईडीसी) के अध्यक्ष मुफ्ती काजी जहांगीर कासमी भी कथित तौर पर धर्म परिवर्तन में शामिल हैं। ऐसे में एक ऐसे लड़के की कहानी सुनाते हैं जो न तो बोल सकता है और न ही सुन सकता है। और वो कैसे मन्नू से अब्दुल बन गया।

जानें कैसे चलती है धर्म परिवर्तन की दुकान…

जी न्यूज की एक रिपोर्ट के मुताबिक, 22 साल के इस लड़के का नाम मन्नू यादव है। ये न सुन सकता है न बोल सकता है। एक एफिडेविट के जरिए मन्नू को अब्दुल मन्ना बना दिया गया। सर्टिफिकेट के मुताबिक, मन्नू यादव को 11 जनवरी को अब्दुल बनाया गया।

सर्टिफिकेट में लिखा है कि मन्नू यादव ने हिंदू धर्म छोड़कर इस्लाम कबूल किया है। इसपर काजी के साइन और इस्लामिक दावा सेंटर की मुहर भी लगी है। सर्टिफिकेट में लिखा है कि जिले की एसडीएम या नोटरी एफिडेविट के आधार पर ये सर्टिफिकेट जारी किया गया है।

सर्टिफिकेट में लिखी है गलत तारीख

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, सर्टिफिकेट में तारीख 11 नवंबर 2021 लिखी गई है। ये तारीख एक नहीं बल्कि दो जगहों पर लिखी है। ऐसे में इसकी कम ही संभावना रह जाती है कि तारीख को गलती से लिखा गया होगा।

किसी अधिकारी ने नहीं की पते की जांच

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, जिस नोटरी एफिडेविट के आधार पर सर्टिफिकेट जारी हुआ है, उसमें गुरुग्राम का पता है। परिवार का कहना है कि किसी भी विभाग से कोई अधिकारी इस पते की जांच करने नहीं पहुंचा।

आपको बता दें कि यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने गिरफ्तार आरोपियों के खिलाफ एनएसए लगाने के निर्देश दिए हैं। पुलिस ने कहा है कि 1,000 से अधिक लोगों को जबरन इस्लाम में परिवर्तित करने के आरोप में दिल्ली से दो लोगों को गिरफ्तार किया गया था। आरोपियों की संपत्तियों को जब्त करने का भी आदेश दिया गया है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...