1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. मनी लॉन्ड्रिंग मामले में बढ़ी माफिया मुख्तार अंसारी और अतीक अहमद की मुसीबत, अब चलेगा ED का डंडा

मनी लॉन्ड्रिंग मामले में बढ़ी माफिया मुख्तार अंसारी और अतीक अहमद की मुसीबत, अब चलेगा ED का डंडा

Mafia Mukhtar Ansari and Atiq Ahmed's trouble increased in money laundering case; मनी लॉन्ड्रिंग मामले में बढ़ी माफिया मुख्तार अंसारी और अतीक अहमद की मुसीबत। ED के बुलाने पर भी पेश नहीं हुआ अतीक अहमद का बेटा।

By Amit ranjan 
Updated Date

लखनऊ : उत्तर प्रदेश के जेल में बंद माफिया मुख्तार अंसारी और अहमदाबाद जेल में बंद अतीक अहमद की मुसीबत एक बार फिर बढ़ने वाली है, लेकिन अब ये मुसीबत ED के डंडा चलने से होगा। दरअसल उत्तर प्रदेश सहित देश के कई शहरों में अतीक अहमद की संपत्तियों की जानकारी जुटाई गई है। अतीक की कंपनी F&A एसोसिएट, इंफ्राटेक प्राइवेट लिमिटेड और इंफ्रा ग्रीन प्राइवेट लिमिटेड की छानबीन चल रही है।

वहीं ईडी ने इस मामले में अतीक अहमद का बेटा उमर को पूछताछ के लिए बुलाया। लेकिन उमर ईडी के बुलाए जाने के बाद भी पेश नहीं हुआ। इस संबंध में ईडी ने उमर के खिलाफ पीएमएलए कोर्ट में शिकायत दाखिल कर दी है। एक अन्य मामले में उमर की तलाश सीबीआई को भी है।

माफिया अतीक अहमद से ईडी ने 27 और 28 अक्टूबर को गुजरात की साबरमती जेल में कई घंटो तक पूछताछ की थी। वहीं मुख्तार अंसारी से ईडी की टीम ने रविवार को बांदा जेल में करीब छह घंटे तक पूछताछ की थी। ईडी ने माफिया अतीक अहमद से पूछताछ के दौरान उसके, उसकी पत्नी व बेटे से जुड़े 12 बैंक खातों के बारे में, उनमें ट्रांसफर हुई रकम व अन्य लेन देन के बारे में पूछताछ की। इन्हीं खातों के जरिए मनी लांड्रिंग होने की आशंका है।

इसके अलावा प्रयागराज स्थित एफ एंड ए असोसिएट्स प्राइवेट लिमिटेड, लखनऊ स्थित एमजे इन्फ्रास्टेट प्राइवेट लिमिटेड, एमजे इन्फ्राग्रीन प्राइवेट लिमिटेड और मैसर्स अतीक ट्रेडर्स में हुए लेन देन के बारे में गहनता से पूछताछ की। ईडी के मुताबिक इस दौरान अतीक अहमद ने अपने खातों से हुए ट्रांजेक्शन के बारे में कुछ नहीं बताया। पूछताछ के दौरान वह अपनी आय के स्रोतों के बारे में भी नहीं बता पाया। ईडी ने अतीक अहमद के सीए और अन्य साथियों के भी इस दौरान बयान दर्ज किए। अतीक के बेटे उमर को भी कई बार पूछताछ के लिए बुलाया गया। लेकिन वह ईडी के सामने पेश नहीं हुआ। उसने ईडी द्वारा भेजे गए समन का भी कोई जवाब नहीं दिया।

ईडी ने मुख्तार अंसारी, उसकी पत्नी व बेटों के सात बैंक खातों के बारे में पूछताछ की। इनमें से कुछ खाते मुख्तार और उसके करीबियों की कंपनियों के नाम पर भी हैं। ईडी ने मुख्तार से उसकी कंपनी गाजीपुर स्थित विकास कंस्ट्रक्शन, अंसारी कंस्ट्रक्शन इंटरप्राइजेज व ग्लोरीज लैंड डेवलपर्स प्राइवेट और उनसे हुए लेन देन के बारे में भी गहनता से पूछताछ की है। ईडी को आशंका है कि इन्हीं बैंक खातों व कंपनियों के जरिए ही दोनों आरोपित माफियाओं ने बड़े पैमाने पर मनी लांड्रिंग की है। अतीक के बेटे उमर पर सीबीआई ने दो लाख का ईनाम भी घोषित किया है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...