1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. अति सर्वत्र वर्जयेत् : पांच बार के विधायक बाहुबली अतीक अहमद की 300 करोड़ की संपत्ति हुई स्वाहा

अति सर्वत्र वर्जयेत् : पांच बार के विधायक बाहुबली अतीक अहमद की 300 करोड़ की संपत्ति हुई स्वाहा

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

हमारे वेद पुराणों की एक एक बात सत्य साबित होती है। शास्त्र कहता है कि किसी भी चीज की अति सर्वथा घातक होता है। इसीलिये कहा जाता है कि किसी के अच्छे गुण भी दुर्गुण मे बदल जाते है जब वह उसकी अति कर देता है ।

अति रूपेण  वै सीता ह्यतिगर्वेण रावणः । अतिदानाद् बलिर्बध्दो ह्यति सर्वत्र वर्जयेत् ।।

पांच बार के विधायक और एक बार देश के पहले प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू की संसदीय सीट फूलपुर से सांसद निर्वाचित हो चुके बाहुबली अतीक अहमद का साम्राज्य लगातार बिखरता जा रहा है।

उनके करीबी मोहम्मद अब्बास का भी मैक टॉवर सील हो गया है। योगी सरकार के निर्देश पर इन दिनों यूपी के जिन बड़े माफिया और अपराधियों के खिलाफ अभियान चलाया जा रहा है, उसमें भूमाफिया घोषित हो चुके आईएस गैंग के सरगना बाहुबली अतीक अहमद का भी नाम शामिल है।

पुलिस और प्रशासन लगातार बाहुबली की आर्थिक कमर तोड़ने की दिशा में कार्रवाई कर रहा है। बाहुबली अतीक अहमद गैंग के सदस्य और उसके करीबी मोहम्मद अब्बास खान के सिविल लाइंस स्थित शापिंग काम्पलेक्स मैक टाॅवर को सील करने के बाद प्रयागराज विकास प्राधिकरण ने उसके ड्रीम प्रोजेक्ट किसान कोल्ड स्टोरेज पर भी सरकारी बुलडोज़र चला दिया।

इसके बाद पूर्व सांसद अतीक अहमद के खिलाफ अब तक की सबसे बड़ी कार्रवाई की गई है। अतीक अहमद के चकिया स्थित आवास पर सरकारी बुलडोजर चला है।

PRAYAGRAJ ATIQ2

प्रयागराज विकास प्राधिकरण की टीम ने बुलडोजर से निर्माण को ध्वस्त कर दिया। एक साथ आधा दर्जन बुलडोजर लगाकर इस घर को गिरा दिया गया।

योगी सरकार ने फूलपुर के पूर्व सांसद के खिलाफ सख्त ऐक्शन लिया है। अब तक अतीक अहमद की 300 करोड़ से ज्यादा की संपत्ति को कुर्क या ध्वस्त किया गया है।

माफिया घोषित किए गए बाहुबली अतीक अहमद और उसके गैंग की अवैध और बेनामी संपत्तियों पर सरकारी बुलडोजर लगातार चल रहा है।

PRAYAGRAJ ATIQ

19 सितंबर को प्रयागराज प्रशासन ने पड़ोसी कौशाम्बी जिले के बॉर्डर पर सल्लाहपुर के हटवा गांव में अतीक के भाई पूर्व विधायक अशरफ के साले मोहम्मद जैद के आलीशान आशियाने को ध्वस्त किया था।

करोड़ों की लागत से बना तीन मंजिला मकान ध्वस्त करने के लिए प्रयागराज विकास प्राधिकरण के अधिकारियों के साथ, फोर्स भी मौजूद रही। तकरीबन आधा दर्जन बुलडोजर व जेसीबी मशीनों के जरिए अवैध निर्माण को ढहा दिया गया।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...