1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. कोरोना का कहर: दो मई को करना था कन्यादान, कोरोना ने ली माता-पिता की जान, इलाके में पसरा सन्नटा

कोरोना का कहर: दो मई को करना था कन्यादान, कोरोना ने ली माता-पिता की जान, इलाके में पसरा सन्नटा

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

नई दिल्ली: देश में कोरोना का कहर इस दौर में पहुंच गया है कि संक्रमण की चेन रोकना मुश्किल हो गया है। केंद्र सरकार से लेकर राज्य सरकारों भी बेबस नजर आ रही है। कोरोना के इस दूसरे लहर में संक्रमण की गति काफी तेज है, इसके साथ संक्रमण से इस लहर में जान गंवाने वालों का ऑकड़ा भी काफी तेजी के साथ बढ़ रहा है। हाताल तो ये हो गये हैं कि श्यमशान घाटों पर अंतिम संस्कार करने के लिए लाइन लगानी पड़ रही है। कोरोना के कहर का एक ताजा मामला बरेली से सामने आया है, जहां एक माचा-पिता बेटी की शादी की तैयारी करते-करते महामारी की चपेट में आ गये, और तीन दिन में माता-पिता ने दम तोड़ दिया।

आपको बता दें कि बरेली कॉलेज के एसोसिएट प्रोफेसर बेटी की शादी की तैयारी में व्यस्त थे। लेकिन नियति का खेल देखिए खुशियों की धुन की जगह पर मातम पसर गया। पहले पत्नी कोरोना संक्रमित होकर दुनिया छोड़कर चली गईं। तीन दिन के भीतर ही डॉ. भारतेंदु शर्मा ने भी दुनिया को अलविदा कह दिया। मां के बाद पिता की मृत्यु ने परिवार को ही नहीं बल्कि पूरे बरेली को झकझोर दिया है।

प्रोफेसर की बेटी कनक की शादी तय थी। कनक बैंक में पीओ हैं और पूरा परिवार बड़े ही उत्साह से विवाह समारोह की तैयारियों में जुटा हुआ था। सरकार की गाइडलाइन आने के बाद विवाह समारोह में बुलाए जाने वाले अतिथियों की लिस्ट बन रही थी। घर में मंगल गान हो रहा था पर नियति को कुछ और मंजूर था। तैयारियों की भागदौड़ में पति-पत्नी संक्रमण की चपेट में आ गए।

डॉ. भारतेंदु शर्मा और उनकी पत्नी अर्चना शर्मा की संक्रमण के कारण सात अप्रैल को शरीर में आक्सीजन की मात्रा कम हो गई। दोनों को कोविड अस्पताल में भर्ती कराया गया। अस्पताल में इलाज के दौरान 13 अप्रैल को डॉ. भारतेंदु शर्मा की पत्नी का देहांत हो गया। इसके बाद पूरे घर में कोहराम मच गया। डॉ. भारतेंदु को पत्नी की मृत्यु के बारे में नहीं बताया गया था। पत्नी की मौत के तीसरे दिन डॉ. भारतेंदु शर्मा भी कोरोना संक्रमण के कारण दम तोड़ दिया।

दो मई को बेटी का कन्यादान होना था वहां अब मातम पसर गया है। माता और पिता को तीन दिन में ही खोने वाले उनके दो बेटे और दो बेटियों का बेटी का रो-रोकर बुरा हाल है। भारतेंदु शर्मा के बड़े बेटे जलज बैंक में प्रोबेशन ऑफिसर हैं। बेटी नेहा चार्टड एकाउंटेंट है, बेटी कनक बैंक पीओ और छोटा बेटा शरत शर्मा एलएलबी की पढ़ाई पूरी कर सिविल की तैयारी कर रहा है।

 

 

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...