1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. गाजीपुर से BJP ने सपना सिंह को बनाया जिला पंचायत अध्यक्ष पद का उम्मीदवार, भाजपा नेता मुकेश सिंह की छोटी भाभी हैं सपना सिंह

गाजीपुर से BJP ने सपना सिंह को बनाया जिला पंचायत अध्यक्ष पद का उम्मीदवार, भाजपा नेता मुकेश सिंह की छोटी भाभी हैं सपना सिंह

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

नई दिल्ली: विधानसभा चुनाव से पहले उत्तर प्रदेश में सभी राजनीतिक पार्टियां जिला पंचायत अध्यक्ष की तैयारियों में लग गई है। विधानसभा चुनाव से पहले यूपी में हुए पंचायत चुनाव को सभी राजनीतिक पार्टियां सेमीफाइनल मानकर प्रदर्शन की थी। पंचायत चुनाव के बाद समाजवादी पार्टी ताल ठोक रही है कि यूपी में वह पंचायत चुनाव के माध्यम से वापसी कर ली है। जबकि भारतीय जनता पार्टी, समाजवादी पार्टी के इस दावों को झूठा बता रही है।

प्रदेश में जारी सियासत के बीच BJP ने गाजीपुर से निर्दलीय जिला पंचायत सदस्य सपना सिंह को प्रत्याशी घोषित कर दिया है। गाजीपुर सीट के लिए अटकलों का दौर लगातार जारी था। लेकिन अंत में पार्टी ने जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए सैदपुर प्रथम से निर्दलीय जिला पंचायत सदस्य सपना सिंह को सदस्यता दिलाने के एक घंटे बाद नाटकीय ढंग से पत्र के माध्यम से प्रत्याशी घोषित कर दिया।

आपको बता दें कि इसकी घोषणा लिखित रूप से बीजेपी के जिला प्रभारी और बीजेपी प्रदेश इकाई के बड़े नेता कौशलेंद्र सिंह पटेल ने प्रेस विज्ञप्ति जारी कर की। उन्हें पार्टी की प्राथमिक सदस्यता जिलाध्यक्ष भानु प्रताप सिंह ने दिलाई। 26 जून को जिला पंचायत अध्यक्ष पद के लिए नामांकन शुरू होगा। भाजपा प्रत्याशी भाजपा के वरिष्ठ नेता डॉ मुकेश सिंह की छोटी भाभी और एमएलसी विशाल सिंह चंचल की रिश्तेदार भी हैं और इस दावेदारी के लिए खूब पेशबंदी भी हुई थी, जिसके चलते कई राउंड का शक्ति परीक्षण यहां से लखनऊ प्रदेश कार्यालय तक हुआ और आज अंत में सपना सिंह पर ही मुहर लग गई।

आपको बता दें कि BJP जिला इकाई ने पहले मात्र एक नाम वंदना यादव का ही भेजा था जो पूर्व सांसद और वर्तमान एलजी जम्मू-कश्मीर के काफी करीबी मानी जाती हैं, लेकिन वहीं निर्दलीय प्रत्याशी के तौर पर सपना सिंह ने जहां अपने निकटतम सपा उम्मीदवार श्रीमती अंजना सिंह जो पूर्व सपा सांसद राधेमोहन सिंह की पत्नी थी, उनको हराया था बल्कि भाजपा प्रत्याशी की जमानत तक जब्त करवा चुकी हैं।

बात करें समाजवादी पार्टी की तो सपा ने जिला पंचायत अध्यक्ष सामान्य महिला सीट से जमानियां क्षेत्र से जीत कर आई कुसुमलता यादव जो पिछड़े वर्ग से आती हैं, उनको प्रत्याशी घोषित किया है। वहीं बसपा ने अभी तक पत्ता नहीं खोला है, सूत्रों की मानें तो बसपा के पास कुल एक दर्जन वोटर हैं और माना जा रहा है कि उनसे ये दोनों ही प्रत्याशी सम्पर्क में हैं।

यहां के समींकरण को समझें तो जिला पंचायत अध्यक्ष पद सामान्य महिला के लिए आरक्षित है।यहां कुल 67 सीटों में से भाजपा के पास छह सदस्य हैं। वहीं सपा के पास 13 व जबकि बसपा के पास लगभग 10 जिला पंचायत सदस्य हैं। इसके बाद बाकी या तो दलों के बागी हैं या फिर निर्दल सदस्य है। दोनो पार्टी को अपनी पार्टी का अध्यक्ष बनाने के लिए 34 का जादुई आंकड़ा चाहिए। जो दोने पार्टी के पास नहीं है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...