1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. केवाईसी (KYC ) के लिए आये फोन या मैसेज तो हो जायें सावधान

केवाईसी (KYC ) के लिए आये फोन या मैसेज तो हो जायें सावधान

हर माह 15 से 20 लोगों के साथ की जा रही इस तरह से ठगी,साइबर ठगों ने शहर मे पिछले एक माह में केवाईसी अपडेट के नाम पर लगभग 20 लोगों को अपना शिकार बनाया है।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

नोएडा। साइबर ठगों का कहर शहर में बरकरार है। ठग हर रोज लोगो को किसी ना किसी तारीके से अपने चंगुल में फँसा कर उनके जीवन भर की गाढ़ी कामई को मिनट भर में साफ कर रहें है। साइबर ठगों ने शहर मे पिछले एक माह में केवाईसी अपडेट के नाम पर लगभग 20 लोगों को अपना शिकार बनाया है। जिसमें हालिया मामला सेक्टर 128 स्थित सोसायटी में रहने वाले अनूप कुमार का है। अनूप कुमार एक कंपनी में काम करते है। उन्होने शिकायत करते हुए बताया कि उनके पास 2 दिन पहले केवाईसी अपडेट के नाम पर एक अज्ञात नंबर से फोन आया और खुद को बैंक कर्मी बताया। आरोपी ने खाते की केवाईसी कराने के नाम पर बैंक खाता संबंधित जानकारी ली। जानकारी लेने के बाद उनके खाते से ठगों ने 12000 रुपये निकाल लिए।

ये बरते सावधानी
यदि आपके पास कोई केवाईसी अपडेट करवाने के लिए फोन करें या मैसेज के जरिए लिंक भेज कर आपको केवाईसी अपडेट करने के लिए कहे तो तुरंत फोन काट दे।
मैसेज के किसी भी लिंक पर क्लिक ना करें।
बैंक कभी भी केवाईसी अपडेट करने या एटीएम कार्ड नंबर जानने के लिए आपके पास कॉल नहीं करते हैं। फिर भी अगर आपको किसी प्रकार की संदेह हो तो अपनी बैंक के ब्रांच में जाकर संपर्क करें।
साइबर ठग क्यूआर कोड, ऐप डाउनलोड, ओटीपी के बारे में आपसे कुछ भी कहे तों उसे बिल्कुल ना करें।

यहां शिकायत करें
अगर आपके साथ साइबर ठगी की घटना हो जाती है तो साइबर सेल के 1930 नंबर पर कॉल करके शिकायत दर्ज करा सकते हैं। इसके अलावा पुलिस की साईट पर भी जाकर ऑनलाइन रिपोर्ट भी दर्ज करवा सकते हैं। इसके अलावा अपने नजदीकी थाने, सेक्टर-36 स्थित साइबर क्राइम थाना या साइबर सेल में जाकर भी घटना की शिकायत दर्ज करवा सकते हैं।

नोएडा में पहले हुई घटनाये
एक सप्ताह पहले नोएडा के सेक्टर-126 निवासी उमाकांत के पास एक नंबर से कॉल आई थी। कॉल करने वाले ने खुद को पेटीएम का कर्मचारी बताया। आरोपी ने खाते का केवाईसी कराने के नाम पर 46,599 रुपये निकाल लिये थे।

केवाईसी करवाने के नाम पर सेक्टर 119 निवासी युवक के खाते से ठगों ने 20 हजार निकाल लिए थे। पीड़ित ने सेक्टर 113 थाने में मामला दर्ज कराया था।

सेक्टर-78 स्थित महागुन मॉर्डने सोसायटी की महिला डॉक्टर से 3 लाख 25 हजार 522 रुपये की ठगी की गई थी। जालसाजों ने सिम की केवाईसी अपडेट कराने के नाम का झांसा देकर घटना की। ठगों ने उनके फोन में सॉफ्टवेयर डाउनलोड कराया था।

मोबाइल फोन नंबर का केवाईसी अपडेट करने के नाम पर साइबर ठगों ने एक कार चालक आर्य मुनि के खाते से 34 हजार रुपये निकाल लिए थे।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...