1. हिन्दी समाचार
  2. उत्तर प्रदेश
  3. यूपी STF और नोएडा पुलिस ने ढाई लाख के इनामी बदमाश जयपाल उर्फ अजय कालिया को मुठभेड़ में किया ढेर

यूपी STF और नोएडा पुलिस ने ढाई लाख के इनामी बदमाश जयपाल उर्फ अजय कालिया को मुठभेड़ में किया ढेर

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

नोएडा: योगी सरकार अपराधियों को लेकर जीरो टॉलरेंस की नीति के तहत सख्ती से निपट रही है। सीएम योगी सूबे की कमान संभालते ही अपराधियों को चेतावनी दे दिए थे कि या तो वो अपराध छोड़ दें या फिर वो उत्तर प्रदेश छोड़ दें। सरकार अपनी नीति पर अब भी अड़िग है। ताजा मामला नोएडा से सामने आया है। जहां पुलिस और यूपी STF की संयुक्त टीम ने ढाई लाख रुपये के इनामी बदमाश जयपाल उर्फ अजय कालिया को ढेर कर दिया।

आपको बता दें कि कालिया के खिलाफ लूट, हत्या, डकैती और रेप जैसे संगीन मामले दर्ज हैं। पुलिस को काफी समय से उसकी तलाश थी। मुठभेड़ के दौरान अजय कालिया घायल हो गया था। जब पुलिस उसे अस्पताल लेकर पहुंची तो डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया।

STF और पुलिस की मानें तो बुधवार को STF और नोएडा पुलिस को हाइवे पर लूट, डकैती और बलात्कार करने वाले घुमन्तु जनजातियों के सक्रिय गैंग के बारे में सूचना मिली थी। इसी दौरान पुलिस और एसटीएफ की टीम ने नोएडा के थाना 20 क्षेत्र में बदमाशों को ट्रैक किया। पुलिस और एसटीएफ की टीम को देखते ही बदमाशों ने फायरिंग शुरु कर दी। इसके बाद पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई की। इस मुठभेड़ के दौरान गैंग के कुख्यात इनामी बदमाश अजय कालिया गोली लगने से घायल हो गया।

इसके बाद पुलिस टीम ने घायल बदमाश को उपचार के लिए अस्पताल ले गई, जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। मारे गए बदमाश की पहचान अजय उर्फ कालिया पुत्र सुरेश निवासी रेवारी, हरियाणा के रूप में हुई। इस बदमाश के खिलाफ लूट डकैती के साथ बलात्कार के कई मामले मथुरा, अलीगढ़, बदायूं और पलवल, हरियाणा में दर्ज हैं। वह कई राज्यों में वॉन्टेड था।

आपको बता दें कि अजय कलिया पर 2,50,000 रुपये इनाम घोषित था। जिसमें से मथुरा से एक लाख और टप्पल, अलीगढ़ से 50 हजार का इनाम था। वहीं 1 लाख शासन से घोषित था। पुलिस की मानें तो  20 जनवरी 2020 को अजय कालिया ने ही अपने साथियों के साथ केएमपी रोड, पलवल में गाड़ी पंक्चर करके सवारियों से लूटपाट की थी और एक 14 वर्षीय बालक के साथ कुकर्म किया था। चर्चित बुलंदशहर गैंगरेप और लूट में सीबीआई को भी इसकी तलाश थी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads