1. हिन्दी समाचार
  2. बड़ी खबर
  3. कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बाद आर्थिक गतिविधियों में आयी तेजी, जानें किस सेक्‍टर में हुई सबसे ज्‍यादा भर्तियां

कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बाद आर्थिक गतिविधियों में आयी तेजी, जानें किस सेक्‍टर में हुई सबसे ज्‍यादा भर्तियां

Economic activities accelerated after the second wave of corona virus; भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था में भी अब हो रही है रिकवरी। देश की कॉरपोरेट कंपनियों में भी हायरिंग शुरू करने लगी है।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

नई दिल्‍ली: कोरोना महामारी की दूसरी लहर के बाद भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था बिल्कुल चरमरा गयी थी, जिससे सभी सेक्टर पर इसका प्रभाव देखने को मिला। लेकिन अब आर्थिक गतिविधियों में तेजी दिख रही है। भारतीय अर्थव्‍यवस्‍था में भी अब रिकवरी हो रही है। देश की कॉरपोरेट कंपनियों में भी हायरिंग शुरू करने लगी है। इससे देश में नौकरियों में भी बढ़ोतरी होती दिख रही है।

रिक्रूटमेंट फर्म माइकल पेज इंडिया की रिपोर्ट के अनुसार, ‘कैलेंडर ईयर 2021 की तीसरी तिमाही के दौरान पिछले साल की इसी अवधि के मुकाबले नई नौकरियों के मौकों में 14 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है। नई नियुक्तियों में हो रही इस बढ़ोतरी में इंजीनियरिंग और मैन्‍युफैक्‍चरिंग सेक्‍टर में सबसे ज्‍यादा भर्तियां हुई हैं। वहीं, टेक्‍नोलॉजी सेक्‍टर में भी जॉब के मौके बढ़े हैं।

माइकल पेज इंडिया के प्रबंध निदेशक निकोलस डूमौलीन (MD Nicolas Dumoulin) ने बताया कि सितंबर तिमाही के दौरान देश में जॉब के नए मौके में 14 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है। वहीं, पिछले साल की गई छंटनी की तुलना में इस साल नौकरियों के मौकों में 50 फीसदी तक की बड़ी वृद्धि दर्ज की गई है।

टेक्नोलॉजी सेक्टर में 58 फीसदी बढ़ोतरी

जॉब बढ़ोतरी के तहत इंजीनियरिंग और मैन्‍युफैक्‍चरिंग सेक्‍टर में सबसे ज्‍यादा नौकरियां दिख रही है. इसके बाद टेक्नोलॉजी सेक्टर में नौकरियों के मौकों में 58 फीसदी बढ़ोतरी हुई है। वहीं, लॉ क्षेत्र में 35 फीसदी और मानव संसाधन क्षेत्र में 25 फीसदी बढ़ोतरी हुई है। आर्थिक गतिविधियों में हो रहे सुधार और कोरोना टीकाकरण के लगातार बढ़ते आंकड़े जॉब बढ़ोतरी की वजह माने जा रहे हैं।

गौरतलब है कि दूसरी लहर के दौरान देश में नई भर्तियां थम गई थी। फरवरी-मार्च 2021 के दौरान भारतीय कंपनियों ने तेजी से भर्तियां निकालीं। इसके बाद कोरोना वायरस की दूसरी लहर के बाद, हालात फिर बिगड़ गए। जनवरी-सितंबर 2021 के दौरान सितंबर 2021 तिमाही में नई नियुक्तियों की रफ्तार काफी बढ़ी है। अब देश की अर्थव्यवस्था में सुधार के साथ लोगों की खरीदारी बढ़ रही है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...