1. हिन्दी समाचार
  2. क्राइम
  3. टिकरी बॉर्डर पर किसान आंदोलन में गैंगरेप का मुख्य आरोपी गिरफ्तार, पुलिस ने घोषित किया था इनाम

टिकरी बॉर्डर पर किसान आंदोलन में गैंगरेप का मुख्य आरोपी गिरफ्तार, पुलिस ने घोषित किया था इनाम

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

नई दिल्ली: केंद्र सरकार द्वारा लाये गये तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ टिकरी बॉर्डर पर किसान आंदोलन में बंगाल की एक युवती से गैंगरेप की घटना सामने आई थी। जिसके बाद चारो तरफ तहलका मच गया था। इस मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपी अनिल मलिक को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने अनिल मलिक पर इनाम घोषित किया था। जबकि इस मामले के दो अन्य आरोपी अनूप चनौत और अंकुर सांगवान अभी भी पुलिस गिरफ्त से बाहर हैं।

आपको बता दें कि युवती किसान आंदोलन में भाग लेने पश्चिम बंगाल से आई थी। बलात्कार के बाद कोरोना महामारी के वजह से उसकी मौत हो गई थी। पीड़िता के पिता ने दो महिलाओं समेत 6 लोगों पर मामला दर्ज करवाया था। युवती की उम्र 25 वर्षीय है। कथित तौर पर दुष्कर्म का एक मामला सामने आया है।

घटना के बाद युवती के पिता ने इस मामले में FIR दर्ज कराई है। युवती के साथ रेप सहित अन्य धाराओं में 6 लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। आरोपि किसान सोशल आर्मी से जुड़े थे। आरोपियों में अनिल मलिक, अनूप सिंह, अंकुश सांगवान, जगदीश बराड़, कविता आर्य और योगिता सुहाग शामिल हैं। अनूप सिंह चानौत ‘आम आदमी पार्टी’ का नेता बताया जा रहा है, आप मुखिया और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविन्द केजरीवाल के साथ उसकी तस्वीर भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

मिली जानकारी के अनुसार, 25 साल की युवती 10 अप्रैल को एक किसान संगठन के साथ बंगाल से टीकरी बॉर्डर आई थी। वह तीनों कृषि कानूनों के खिलाफ प्रदर्शन किया जा सके। महिला को झज्जर जिले के एक अस्पताल में 26 अप्रैल को कोविड के लक्षणों के बाद भर्ती कराया गया था, लेकिन 30 अप्रैल को उसकी मौत हो गई। आठ दिन बाद उसके पिता ने दुष्कर्म का मामला दर्ज कराया है। जांच के लिए डीएसपी के नेतृत्व में एक एसआईटी गठित की गई है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads