Home क्राइम वहशी दरिंदे ने घर आई महिला टीचर को मारकर शव के साथ किया सेक्स, पत्नी और 2 बेटियों को भी उतारा था मौत के घाट

वहशी दरिंदे ने घर आई महिला टीचर को मारकर शव के साथ किया सेक्स, पत्नी और 2 बेटियों को भी उतारा था मौत के घाट

1 second read
0
927

रिपोर्ट: सत्यम दुबे

नई दिल्ली: झारखंड के जमशेदपुर में तकरीबन एक हफ्ता पहले एक ऐसी भयावह खबर सामने आई थी, जिसे जानकर सभी दंग रह गय़े थे। 11 अप्रैल को जमशेदपुर में दीपक कुमार नाम के एक युवक ने अपनी पत्नी, दो बेटी और एक महिला टीचर की दर्दनाक हत्या कर फरार हो गया था। पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर मामले का खुलासा किया है। पुलिस की पूछताछ में आरोपी ने कई चौकानें वाले खुलासे किए हैं। पुलिस की मानें तो आरोपी इतना बड़ा वहशी निकला कि शिक्षिका को मौत के घाट उतारने के बाद उसके शव के साथ सेक्स किया।

आपको बता दें पुलिस ने आगे बताया कि आरोपी साइको किलर है। वह हमेंशा मोबाइल पर वेब सीरीज देखता था। पुलिस के पूछताछ में आरोपी दीपक ने बताया कि वह अपने परिवार को नहीं मारना चाहता था, लेकिन मजबूरी में उसे ऐसा करना पड़ा। उसने कहा कि मैं तो सिर्फ अपने दोस्तों की हत्या करना चाहता था। फिर सोचा अगर उनको मारने के बाद अगर में जेल चला गया तो मेरे परिवार का क्या होगा। उनका कौन ख्याल रखेगा, इसलिए पहले परिवार को खत्म किया।

उसने आगे बताया कि  दोस्त रोशन को मारना चाहा, लेकिन वह बच निकला। आरोपी ने हत्या का कारण बताते हुए कहा कि उसके साथ दोस्तों ने धोखा किया है। हम लोगों ने मिलकर ट्रांसपोर्ट के धंधे के लिए जो हाइवा ट्रक लिया था, उसमे लगातार घाटा लग रहा था और रोशन साथ नहीं दे रहा था।

आरोपी ने कहा कि परिवार को मारने के बाद जब शिक्षिका ट्यूशन के लिए घर आई तो उसने उसका भी कत्ल कर दिया और फिर उसके दोनों हाथ-पैर टेप से बांध दिए। इसके बाद हैवान शव के साथ रेप करने लगा। इतने में उसका दोस्त रोशन और उसका साला आया तो दीपक ने उनपर भी हथियार से हमला किया, लेकिन वह किसी तरह अपनी जान बचाकर भाग गए।

वारदात को अंजाम देने के बाद आरोपी दीपक अपनी बुलेट निकाली और ओडिशा के राउरकेला चला गया। यहां कई होटलों में उसने मौज काटी, इसके साथ ही उसने पत्नी के जो सोने के गहने लेकर आया था, उनको चार लाख में बेच दिया। इसके बाद वह धनबाद पहुंचा, वह लगातार अपने ठिकाना बदल रहा था। इधर पुलिस उसके मोबाइल लोकेशन को ट्रेस कर रही थी। जैसे पुलिस पहुंचे और वह भाग जाता था।

आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस के मुखबीरी करवाई जिसके बाद उसको पकड़ा जा सका, आरोपी पत्नी के बेचे जेवर से मिले पैसे को भाई के बैंक खाते में जमा कराने एसबीआई के हीरापुर ब्रांच पहुंचा था। यहीं पुलिस ने उसको धर दबोचा। इस दौरान उसके पास से पुलिस ने 1 लाख रुपए नगद के साथ 3 एटीएम कार्ड, पैन कार्ड और चाकू बरामद किया है।

आरोपी ने हथौड़ से पत्नी वीणा कुमारी, दोनों बच्चियां श्रावणी,सानवी के साथ-साथ उनकी ट्यूशन टीचर रिंकू घोष की बेरहमी से हत्या कर दी। आरोपी दीपक और वीणा की शादी साल 2003 में हुई थी। दीपक का बड़ा भाई एसबीआई रांची में मैनेजर है। उसकी पांच बहन भी है, लेकिन किसी से दीपक की नहीं बनती है।

Load More In क्राइम
Comments are closed.