1. हिन्दी समाचार
  2. ताजा खबर
  3. कोटा: महिला होकर भी इन माताओं का दुख नहीं समझती प्रियंका-सोनिया: योगी आदित्यनाथ

कोटा: महिला होकर भी इन माताओं का दुख नहीं समझती प्रियंका-सोनिया: योगी आदित्यनाथ

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

कोटा के जेके लोन अस्पताल में दिसंबर महीने में मरने वाले बच्चों की संख्या बढ़कर 100 से भी ज्यादा हो गई है। बच्चों की मौत पर उत्तर प्रदेश सरकार योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा पर निशाना साधते हुए कहा है कि, माताओं की गोद उजड़ना सभ्य समाज, मानवीय मूल्यों और संवेदनाओं पर धब्बा है।

महिला होकर भी इन माताओं का दुख नहीं समझ प्रियंका-सोनिया

इसके आगे यूपी सीएम ने कहा कि सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी महिला होकर भी इन माताओं का दुख नहीं समझ पा रही हैं। इसके साथ ही उन्होंने कहा है कि, प्रियंका गांधी वाड्रा अगर उत्तर प्रदेश में राजनीतिक नौटंकी करने की जगह पर राजस्थान में उन गरीब पीड़ित माताओं से जाकर मिलतीं, जिनकी गोद केवल उनकी पार्टी की सरकार की लापरवाही की वजह से सूनी हो गई है तो उन परिवारों को कुछ सांत्वना मिलती। इसको किसी की न चिंता है, न कोई संवेदना, जनसेवा नहीं सिर्फ राजनीति करनी है।

अस्पताल की हालत खराब

मीडिया में आ रही खबरों की माने तो जिस अस्पताल में 100 बच्चों की मौत हुई है उस हॉस्पिटल की स्थिति बेहद खराब है। बताया जा रहा है कि, अस्पताल में मौजूद 19 में से 13 वेंटिलेटर खराब है,
111 में से 81 Infusion Pump खराब
71 में से 44 वार्मर खराब
38 में से 32 Oxymeters खराब
28 में से 22 Nebulisers खराब

मायावती ने कहा क्या अब प्रियंका कोटा नहीं जाएंगी

मायावती ने गहलोत सरकार के साथ साथ प्रियंका गांधी पर निशाना साधते हुए कहा है कि, 100 मासूम बच्चों की मौत अति दु:खद है, अब क्यों कांग्रेस पार्टी के शीर्ष नेतृत्व व खासकर महिला महासचिव की इस मामले में चुप्पी साधे रखें है। अच्छा होता, कि वह यूपी की तरह उन गरीब पीड़ित माओं से भी जाकर मिलती।

इसके अलावा मायावती ने कहा कि, साथ ही कहा अगर कांग्रेस की महिला राष्ट्रीय महासचिव राजस्थान के कोटा में जाकर मृतक बच्चों की मांओं से नहीं मिलती हैं, तो यहां अभी तक किसी भी मामले में यूपी पीड़ितों के परिवार से मिलना उनका यह सिर्फ राजनैतिक स्वार्थ और नाटकबाजी ही मानी जाएगी, जिससे यूपी की जनता को सर्तक रहना है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...