1. हिन्दी समाचार
  2. क्राइम
  3. खान मार्केट में मिला न्यूज़ एंकर और फिर होटल ले जाकर करने लगा रेप!

खान मार्केट में मिला न्यूज़ एंकर और फिर होटल ले जाकर करने लगा रेप!

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: नंदनी तोदी
नई दिल्ली: पत्रकार का कर्तव्य सच्चाई सबके सामने लाना है, और आरोपों का पर्दाफाश करना है। लेकिन अगर वही पत्रकार आरोपों से घिरा हो तो? क्या आप विश्वास कर पाएंगे कि एक जाने माने चैनल का पत्रकार रेप जैसे आरोपों से घिरा हुआ है?

दरअसल, मामला है 20 फ़रवरी का, जब एक 22 वर्षीय युवती ने ET NOW के एंकर वरुण हिरेमथ के खिलाफ दिल्ली पुलिस में शिकायत दर्ज कर आरोप लगाया था कि हिरेमथ ने उसके साथ 20 फरवरी को दिल्ली के चाणक्यपुरी में एक फाइव स्टार होटल में बलात्कार किया था।

अब इस मामले में एक नया मोड़ आया है। आरोपी एंकर की गिरफ्तारी की जगह, दिल्ली हाई कोर्ट ने आरोपी वरुण को राहत देते हुए गिरफ्तारी से अंतरिम सुरक्षा प्रदान की है। कोर्ट ने ये राहत इस शर्त पर दी है कि जब भी जरूरत होगी, वे पुलिस जांच में शामिल होंगे। इतना ही नहीं इससे पहले दिल्ली की एक अदालत ने गैरजमानती वारंट (NBW) भी जारी किया था।

बता दें, हिरेनाथ पर आईपीसी की धारा 376 (बलात्कार), धारा 342 (गलत तरीके से बंधक बनाना) और 509 (शब्द, इशारा या कार्य के माध्यम से किसी महिला की गरिमा भंग करने का उद्देश्य) के तहत मामला दर्ज किया गया है।

आपको बता दें, मामला पुलिस के हाथ लगते ही आरोपी एंकर 23 फरवरी से फरार थे। तभी चाणक्यपुरी पुलिस स्टेशन के सब-इंस्पेक्टर अविनाश प्रताप ने मीडिया को बताया, ‘हम उनकी तलाश कर रहे हैं लेकिन वह बच रहे हैं। उन्होंने अपना मोबाइल फोन भी बंद कर लिया है।

पीड़िता ने आरोप लगाया था कि वे और हिरेमथ 21 फरवरी की सुबह दिल्ली के खान मार्केट में मिले और वे फिर चाणक्यपुरी के एक होटल में गए। शुरुआती जांच के दौरान पुलिस ने पाया कि दोनों पिछले तीन सालों से एक-दूसरे को जानते थे।

अपनी शिकायत में महिला ने कहा, ‘मैं एक रेस्तरां में आरोपी से मिली… जहां आरोपी ने वाइन पी थी और मैंने किसी भी शराब का सेवन नहीं किया। उसके बाद आरोपी ने मुझे उसके साथ अपने होटल में जाने को कहा, जहां वह अपने परिवार के साथ रह रहा था। हालांकि, यहां इस बात पर जोर देना महत्वपूर्ण है कि मैं केवल आरोपी के साथ बातचीत करने और कुछ समय बिताने के लिए सहमत थी और किसी भी समय यह किसी भी यौन गतिविधि या संभोग के लिए सहमति का संकेत नहीं था।’

एफआईआर में कहा गया है, ‘आरोपी ने महिला की अनुमति के बिना उनके साथ ज़बरदस्ती की और मना करने के बावजूद वो रुके नहीं। खबर है कि केस महिला ने दो दिन बाद पुलिस में दर्ज कराया। सबसे ख़ास बात ये है कि 22 वर्षीय पीड़िता पुणे में कॉलेज के दिनों से ही वरुण को करीब तीन सालों से जानती है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...