1. हिन्दी समाचार
  2. खेल
  3. भारतीय क्रिकेटर विराट कोहली हुए कोविड पॉजिटिव, कोविड-19 आइसोलेशन के बाद लौटेंगे घर

भारतीय क्रिकेटर विराट कोहली हुए कोविड पॉजिटिव, कोविड-19 आइसोलेशन के बाद लौटेंगे घर

विराट कोहली की कोराना रिपोर्ट ने फैंस की चिंता और बढ़ा दी है। बताया जा रहा है कि उन्हें मालदीव से लौटने के बाद ही कोरोना हुआ था। लेकिन, इसके बावजूद वो खिलाड़ियों के साथ इस दौरे पर पहुंचे और बीसीसीआई ने भी इस खबर का खुलासा नहीं होने दिया।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

क्रिकेटर   विराट कोहली   का जन्म 5 नवम्बर 1988 को दिल्ली में एक पंजाबी परिवार में हुआ था। उसके पिता प्रेम कोहली एक अपराधिक वकील और माता सरोज कोहली एक गृहिणी है। उन्हें एक बड़ा भाई विकाश और एक बड़ी बहन भावना भी है। उनके परिवार के अनुसार जब कोहली 3 साल के थे तभी उन्होंने क्रिकेट बैट हात में ली थी, और अपने पिता को बोलिंग करने कहा था।

कोहली उत्तम नगर में बड़े हुए और विशाल भारती पब्लिक स्कूल से शिक्षा ग्रहण की। 1998 में, पश्चिमी दिल्ली क्रिकेट अकादमी बनी और कोहली 9 साल की आयतु में ही उसमे शामिल हुए। कोहली के पिता ने तभी कोहली को अकादमी में शामिल किया जब उनके पडोसी ने उनसे कहा की, “विराट को गल्ली क्रिकेट में समय व्यर्थ नही करना चाहिये बल्कि उसे किसी अकादमी में व्यावसायिक रूप से क्रिकेट सीखना चाहिये। 9 वी कक्षा में उन्हें सविएर कान्वेंट में डाला गया ताकि उन्हें क्रिकेट प्रशिक्षण में मदद मिल सके। खेलो के साथ ही कोहली पढाई में भी अच्छे थे, उनके शिक्षक उन्हें, “एक होनहार और बुद्धिमान बच्चा बताते है।”

भारतीय क्रिकेटर विराट कोहली की प्रारंभिक शिक्षा विशाल भारती पब्लिक स्कूल दिल्ली से हुई थी। पढ़ाई-लिखाई में तो विराट एवरेज ही थे, लेकिन इनका सारा ध्यान हमेशा से क्रिकेट पर ही था। जिसके चलते विराट के पिता ने महज 9 साल की उम्र में क्रिकेट क्लब में दाखिला करा दिया था। ताकि विराट कोहली को क्रिकेट की बारीकियों के बारे में पता लगा सके।

शुरुआत से ही विराट का क्रिकेट पर ध्यान था। वहीं सिर्फ खेल में ही रूचि होने की वजह से इन्होंने महज 12वीं तक शिक्षा हासिल की और इसके बाद उन्होंने पूरी तरह से क्रिकेट पर ध्यान लगाना शुरु किया। आपको बता दें कि इन्होंने राज कुमार शर्मा से दिल्ली क्रिकेट सीखा और सुमित डोंगरा नाम की एकडेमी में पहला मैच खेला।

वही, भारतीय क्रिकेट टीम को इंग्लैंड दौरे पर एकमात्र टेस्ट मैच खेलना है लेकिन, उससे पहले विराट कोहली को लेकर एक बड़ी खबर सामने आ रही है। जो टीम इंडिया के लिए आखिरी निर्णायक टेस्ट से पहले एक बड़ा झटका साबित हो सकती है। अंग्रेजी टीम के खिलाफ एकमात्र टेस्ट का आगाज 1 जुलाई से होगा और 5 जुलाई तक खेला जाएगा।

लेकिन, विराट कोहली की कोराना रिपोर्ट ने फैंस की चिंता और बढ़ा दी है। बताया जा रहा है कि उन्हें मालदीव से लौटने के बाद ही कोरोना हुआ था। लेकिन, इसके बावजूद वो खिलाड़ियों के साथ इस दौरे पर पहुंचे और बीसीसीआई ने भी इस खबर का खुलासा नहीं होने दिया।

हवाले से आ रही एक रिपोर्ट की माने तो “विराट कोहली मालदीव से लौटने के बाद ही कोरोना की चपेट में आ गए थे लेकिन, लंदन पहुंचने के बाद इसकी पुष्टि हुई। फिलहाल वो इस महामारी से उबर चुके हैं और खेलने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।

 

” रिपोर्ट्स की माने तो रविचंद्रन अश्विन भी इंग्लैंड दौरे पर जाने से पहले कोरोना वायरस से संक्रमित पाए गए थे। इसलिए उन्होंने साथी खिलाड़ियों के साथ जाने से मना कर दिया था।

हालांकि, विराट कोहली अब सवालों के घेरे में हैं। कोरोना से उबरने के बाद भी वो लंदन की सड़कों पर बिना मास्क के घूमते हुए नजर आ रहे हैं और फैंस के साथ सेल्फी लेते हुए भी उनकी तस्वीरें वायरल हुई हैं। जबकि इस समय इंग्लैंड में हर दिन 10,000 के हिसाब से कोरोना के मामले सामने आ रहे हैं।

इन समस्याओं के बीच कोहली की ये लापरवाही कहीं न कहीं चिंता का विषय बन गई है। हाल ही में बीसीसीआई के एक अधिकारी ने भारतीय खिलाड़ियों को बिना मास्क के घूमते हुए देखने के बाद जारी किए बयान में कहा था कि बोर्ड इन प्लेयर्स के खिलाफ एक्शन ले सकता है।

इसके अलावा बात करे तो विराट कोहली अपने लुक के लिए भी काफी चर्चा में रहते हैं। बड़ी मात्रा में यूथ विराट के लुक को फोलो करते हैं। यही नहीं विराट अपनी फिटनेस को लेकर भी काफी गंभीर हैं। फिलहाल विराट ऐसे ही क्रिकेट की दुनिया में लगातार अपना नाम कमाते रहे और भारत का मान बढ़ाते रहे यही हमारी कामना है।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...