1. हिन्दी समाचार
  2. खेल
  3. ऑस्ट्रेलिया-इंग्लैंड के बॉक्सिंग डे टेस्ट में 80 हजार दर्शकों को मिल सकती है अनुमति, जानें क्या होता है, कब हुई थी इसकी शुरूवात

ऑस्ट्रेलिया-इंग्लैंड के बॉक्सिंग डे टेस्ट में 80 हजार दर्शकों को मिल सकती है अनुमति, जानें क्या होता है, कब हुई थी इसकी शुरूवात

80 thousand spectators can get permission in Australia-England's Boxing Day test; 26 दिसंबर को बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच के लिए 80 हजार प्रशंसकों को अनुमति। कोरोना प्रतिबंधों में और ढील देने की घोषणा।

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

नई दिल्ली: ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच एशेज सीरीज के आगामी 26 दिसंबर को बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच के लिए मेलबोर्न क्रिकेट स्टेडियम (एमसीजी) में 80 हजार प्रशंसकों को अनुमति दी जा सकती है। दरअसल ऑस्ट्रेलिया के विक्टोरिया राज्य की सरकार ने आगामी महीनों में कोरोना प्रतिबंधों में और ढील देने की घोषणा की है।

मेलबोर्न में आगामी हफ्तों में होने वाले घुड़दौड़ इवेंट में सीमित संख्या के साथ प्रशंसकों की वापसी हो रही है, लेकिन तेजी से हो रहे टीकाकरण के साथ विक्टोरिया के प्रीमियर डैनियल एंड्रयूज ने ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच में एमसीजी पर 80 हजार प्रशंसकों की मौजूदगी की बात कही है। उन्होंने एक बयान में कहा, “ मैं बॉक्सिंग डे टेस्ट के पहले दिन 80 हजार से अधिक लोगों को देखना चाहता हूं। हम इसके लिए दृढ़ हैं। यह आसान नहीं होगा, लेकिन टिकट बेचना बहुत आसान होगा। ”

कब बना बॉक्सिंग डे टेस्ट मैच

ऐसा माना जाता है कि बॉक्सिंग डे की क्रिकेट में एंट्री 1892 में हुई थी। 1892 में मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में विक्टोरिया और न्यू साउथ वेल्स के बीच क्रिसमस के दौरान एक मैच हुआ था। इसके बाद हर साल दोनों टीमों के बीच क्रिसमस के दौरान मैच होने लगे और यह एक परंपरा बन गई। हर मैच में बॉक्सिंग डे का दिन जरूर शामिल होता था।

1950-51 में मेलबर्न में खेला गया था पहला बॉक्सिंग डे टेस्ट

1950-51 में मेलबर्न में पहला बॉक्सिंग डे टेस्ट खेला गया। ऑस्ट्रेलिया और इंग्लैंड के बीच एशेज सीरीज के दौरान यह मैच हुआ। हालांकि यह मैच 22 दिसंबर से शुरु हुआ था और मैच का 5वां दिन बॉक्सिंग डे के दिन पड़ा था। इसके बाद 1953 से 1967 के बीच कोई भी मैच बॉक्सिंग डे (26 दिसंबर) के दिन नहीं खेला गया। 1974-75 एशेज सीरीज का तीसरा मैच मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड और बॉक्सिंग डे के दिन शुरु हुआ।

क्रिसमस डे (25 दिसंबर) के अगले दिन को कई देशों में बॉक्सिंग डे के नाम से जाना जाता है। दुनिया में अलग-अलग जगहों पर इस दिन को लेकर अलग-अलग थ्योरी हैं। कई देशों में इसे क्रिसमस बॉक्स से जोड़कर देखा जाता है। वहीं, कई जगहों पर चर्च में त्योहार के दिन गरीबों को गिफ्ट करने के लिए रखे गए बॉक्स से जोड़ा जाता है। क्रिकेट में बॉक्सिंग डे टेस्ट शब्द की शुरुआत 1892 में मेलबर्न क्रिकेट ग्राउंड में हुए शेफिल्ड शील्ड के एक मैच से हुई थी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...