Home Breaking News सावरकर: क्या महाराष्ट्र सरकार पर पड़ेगा असर? अजीत पवार का बड़ा बयान

सावरकर: क्या महाराष्ट्र सरकार पर पड़ेगा असर? अजीत पवार का बड़ा बयान

4 second read
0
34

महाराष्ट्र चुनाव के बाद सावरकर का मुद्दा एक बार फिर से उठ खड़ा हुआ है। शनिवार को हुए दिल्ली के रामलीला मैदान में कांग्रेस की तरफ से भारत बचाओ रौली के आयोजन में कांग्रेस के नाताओं ने बीजेपी को जमकर घेरा लेकिन राहुल गांधी ने सावरकर पर जो बयान दिया उसपर कांग्रेस उल्टा फंसने लगी है।

अजीत पवान ने दिया गठबंधन पर बड़ा बयान

सावरकर के बयान पर शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत पर तीखा हमला किया है जिसके बाद से महाराष्ट्र में बनी गठबंधन वाली सरकार को खतरे में बताया जा रहा है! कई लोगों ने इसपर महाराष्ट्र में गठबंधन टूटने की संभावना जताई है। इसी पर एनसीपी नेता अजीत पवार ने बड़ा बयान दिया है।

उद्धव, सोनिया और पवार साहब सही फैसला लेंगे

राहुल गांधी के बयान के बाद, महाराष्ट्र में महा विकास अघाड़ी (कांग्रेस-एनसीपी-शिवसेना) के गठबंधन पर क्या असर पड़ेगा इसपर अजीत पवार ने कहा कि, उद्धव जी, सोनिया जी और पवार साहब सुलझे हुए लोग हैं, वे सही फैसला लेंगे।

कांग्रेस पर शिवसेना का कड़ा रुख

कांग्रेस को लेकर शिवसेना ने अपना कड़ा रुख दिखाते हुए कहा कि, वह हिंदू विचारक विनायक दामोदर सावरकर पर अपने रुख के साथ कोई समझौता नहीं करेगी, सावरकर को शिवसेना ने ‘भगवान जैसा’ बताया है।

संजय राउत की चेतावनी- कहा इस पर कोई समझौता नहीं

संजय राउत ने कहा कि, हिंदी विचारधारा का भी जवाहरलाल नेहरू और महात्मा गांधी जैसे स्वतंत्रता आंदोलन में एक बड़ा योगदान था। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि, वीर सावरकर न केवल महाराष्ट्र में बल्कि पूरे देश में एक ईश्वर तुल्य व्यक्ति हैं। सावरकर नाम बलिदान और स्वाभिमान से मिलता-जुलता है। नेहरू और गांधी की तरह, सावरकर ने भी देश की आजादी के लिए अपना बलिदान दिया। भगवान की तहर हर व्यक्ति का सम्मान किया जाना चाहिए। इस पर कोई समझौता नहीं है।

Share Now
Load More In Breaking News
Comments are closed.