Home Breaking News अलवर मॉब लिंचिंग: पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा, चोट लगने के बाद सदमे से हुई रकबर की मौत

अलवर मॉब लिंचिंग: पोस्टमार्टम रिपोर्ट में खुलासा, चोट लगने के बाद सदमे से हुई रकबर की मौत

0 second read
0
56

अलवर। राजस्थान के अलवर जिले में गोरक्षा के नाम पर भीड़ द्वारा पीट-पीटकर मौत के घाट उतार दिये गए रकबर की पोस्टमार्ट रिपोर्ट आ गई है। रिपोर्ट की मुताबिक शरीर पर चोट लगने और इसके बाद सदमे की वजह से मौत हुई है। रिपोर्ट के अनुसार चोट की वजह से रकबर के जांघ की हड्डी टूट गई थी। साथ ही पसलियों पर भी चोट के निशान पाए गए थे। बता दें कि राजस्थान के अलवर में रकबर और असलम नामक शख्स गाय लेकर जा रहे थे, तभी भीड़ ने उन पर हमला कर दिया था। इस हमले में रकबर की मौत हो गई थी। हांलाकि इस मामले में पुलिस ने तीन लोगों को गिरफ्तार किया गया था। वहीं दूसरी तरफ इस मामले में पुलिस की भूमिका पर उठते सवाल के बीच मामले की जांच सीनियर अफ़सर को सौंप दी गई है। एडिशनल एसपी क्राइम और विजिलेंस के एडिशनल एसपी अब इस मामले की जांच करेंगे।

जानकारी के मुताबिक, इस पहलू की भी जांच की जाएगी कि आख़िर पुलिस ने रकबर को अस्पताल ले जाने में इतनी देर क्यों कर दी? दरअसल शुक्रवार रात गो तस्करी के शक में भीड़ ने रकबर और असलम की जमकर पिटाई की दी थी। भीड़ के पिटाई के बाद रकबर नामक सख्स ने दम तोड़ दिया था। वहीं इस बीच पुलिस ने अब तक तीन लोगों को गिरफ़्तार कर कोर्ट में पेश किया। जिसके बाद कोर्ट ने तीनों आरोपियों को 5 दिन की पुलिस हिरासत में भेज दिया है। वहीं मृतक रकबर का परिवार पुलिसवालों पर कार्रवाई की मांग कर रहा है। पीड़ित परिवार का कहना है कि रकबर भीड़ के हाथों जितना घायल नहीं हुआ उससे ज़्यादा वो पुलिस की हिरासत में हुआ और यही उसकी जान जाने की वजह बनी। उनका यह भी आरोप है कि पुलिस घायल रकबर को सीधे अस्पताल ले जाने के बजाए ढाई घंटे से ज़्यादा समय तक यहां वहां घुमाती रही, और बाद में थाने ले गई। रकबर को अस्पताल तब ले जाया गया जब उसकी मौत हो चुकी थी।

Load More In Breaking News
Comments are closed.