Home ताजा खबर राहुल-प्रियंका गांधी के दौरे से पहले कोरोना का हवाला देते हुए हाथरस किया गया सील

राहुल-प्रियंका गांधी के दौरे से पहले कोरोना का हवाला देते हुए हाथरस किया गया सील

26 second read
0
17

हाथरस में गैंगरेप में पीड़िता को इंसाफ दिलाने के लिए देशभर में गुस्सा है। पीड़िता की मौत के बाद उसका यूपी पुलिस ने जबरन अंतिम संस्कार कर दिया गया। इसे लेकर यूपी सरकार और योगी सरकार पर कई तरह के सवाल खड़े हो रहे हैं। इस मामले पर सीएम योगी आदित्यनाथ सरकार विपक्ष के निशाने पर है।इस घटना को लेकर विपक्ष सरकार पर लगातार निशाना साध रही है।

इसी बीच कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा और पार्टी के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी गुरुवार को पीड़िता के परिवार से हाथरस में मुलाकात करेंगे। वहीं हाथरस के जिलाधिकारी का कहना है कि जिले की सीमाएं सील हैं और धारा 144 लागू कर दी गई है।प्रशासन ने बताया है कि कोरोना संक्रमण के चलते यहां पर 1 सितंबर से 31 अक्टूबर के बीच जिले में धारा 144 लागू है।

राहुल गांधी और प्रियंका गांधी के हाथरस गांव आने की सूचना पर पुलिस प्रशासन सख्ते में आ गई है। जिले की सभी सीमाएं सील कर दी गई हैं और कड़ी चेकिंग कराई जा रही है। हाथरस गांव के आने-जाने वाले सभी रास्तों को रोक दिया गया हैl वहीं कांग्रेस के कुछ नेता राहुल और प्रियंका को अपने साथ लाने के लिए दिल्ली बॉर्डर पर पहुंच गए हैं।

इस बीच मिली जानकारी के अनुसार मीडिया को गांव में जाने की इजाजत नहीं है। उत्तर प्रदेश पुलिस ने कोरोना का हवाला देते हुए यह फैसला किया है। पुलिस ने कहा कि मीडिया एसआईटी जांच में बाधा डाल रही है।

यह घटना 14 सितंबर की है। जहाँ हाथरस के एक गांव में अकल्पनीय दरिंदगी का शिकार हुई पीड़िता की मंगलवार को दिल्ली के सफ़दरगंज अस्पताल में मृत्यु हो गई थी। उसके साथ दुष्कर्म के साथ-साथ मारपीट की गई मारपीट के दौरान उसका जीभ कट गया था और उसकी रीढ़ की हड्ड़ी भी टूट गई थी साथ ही उसका गला दबा के मरने की कोशिश की गई थी।

अपनी बेटी के साथ दरिंदगी और फिर उसे खोने के गम में डूबे परिवार का दुख तब और बढ़ गया जब यूपी पुलिस पीड़िता का शव लेकर उसके गांव पहुंची और जबरदस्ती परिवार को दरकिनार कर उसका अंतिम संस्कार कर दिया। इस घटना को लेकर देश में सियासत जोरो पर चल रही है।कांग्रेस पार्टी ने योगी सरकार पर निशाना साधते हुए योगी सरकार से इस्तीफा देने की मांग की है।

Load More In ताजा खबर
Comments are closed.