Home उत्तराखंड उत्तराखंड: चमोली में बादल फटने से मची तबाही

उत्तराखंड: चमोली में बादल फटने से मची तबाही

0 second read
0
53

चमोली। उत्तराखंड के चमोली जिले के थराली और घाट क्षेत्र के दो गांवों में रविवार रात बादल फटने से भारी तबाही हुई है। जहां थराली की सोलपट्टी के रतगांव में पानी के सैलाब ने ढाडरबगड़ कस्बे का नामोनिशान ही मिटा दिया। इतना ही नहीं यहां स्थित 12 दुकानें मलबे में समा गईं। वहीं दुकानों के बाहर और अन्यत्र खड़े चार टैक्सी वाहन, चार मोटर बाइक और दो कारें भी पानी के तेज प्रवाह की भेंट चढ़ गए। वहीं घुम्मड़ गांव में बादल फटने की वजह से तीन मकान क्षतिग्रस्त हो गए। इसके अलावा ढाडरबगड़ को रतगांव से जोड़ने वाला मोटर मार्ग और एक पैदल पुलिया भी इस आपदा की भेंट चढ़ गया। जानकारी के मुताबिक रतगांव के पास रविवार मध्य रात्रि करीब एक बजे बादल फटने से गांव के किचगाड़ गदेरे में भारी मात्रा में मलबा आ गया। इससे रतगांव के मोटर पुल पर एक झील बन गई। झील बनने से कुछ ही देर में मोटर पुल बह गया और फिर पानी के तेज बहाव और मलबे ने ढाडरबगड़ कस्बे का नामोनिशान ही मिटा दिया।

बुरसोल के प्रधान कैप्टन रणजीत सिंह फर्स्वाण ने बताया कि दो बजे रात्रि को घटना की जानकारी आपदा प्रबंधन कंट्रोल रूम और राजस्व उपनिरीक्षक डुंग्री को सूचना दी गई। हालांकि थराली से ढाडरबगड़ तक 27 किमी सड़क कई जगह सड़क टूटने की वजह से राहत और बचाव दल के कर्मी करीब नौ बजे यहां पहुंचे। वहीं जिलाधिकारी आशीष जोशी भी दोपहर में ढाडरबगड़ पहुंचे। थराली के ढाडरबगड़ पहुंचे एसडीएम रोहित मीणा ने बताया कि बादल फटने से हुए नुकसान का जायजा लिया जा रहा है।

Load More In उत्तराखंड
Comments are closed.