Home Breaking News चंद्रयान-2: चांद की सतह पर मिला विक्रम लैंडर का मलबा, NASA ने तलाशे 3 टुकड़े

चंद्रयान-2: चांद की सतह पर मिला विक्रम लैंडर का मलबा, NASA ने तलाशे 3 टुकड़े

50 second read
1
22

अमेरिकी अंतरिक्ष एजेंसी (NASA) ने चंद्रयान-2 के विक्रम लैंडर के बारे में ट्वीट कर बड़ा खुलासा किया है। नासा ने बताया कि लूनर रिकनैसैंस ऑर्बिटर ने चंद्रमा की सतह पर चंद्रयान-2 के विक्रम लैंडर को ढूंढ लिया है।

नासा ने दावा किया है कि चंद्रयान-2 के विक्रम लैंडर का मलबा क्रैश साइट से 750 मीटर की दूरी पर जाकर मिला। मलबे के तीन सबसे बड़े टुकड़े 2×2 पिक्सल के हैं। सोमवार रात करीब 1:30 बजे नासा ने विक्रम लैंडर के इम्पैक्ट साइट की तस्वीर जारी की और बताया कि उसके ऑर्बिटर को विक्रम लैंडर के तीन टुकड़े दिखे हैं।

नासा के मुताबिक, विक्रम लैंडर की तस्वीर एक किलोमीटर की दूरी से ली गई है। इस तस्वीर में चंद्रमा की मिट्टी भी दिखाई दे रही है। भारतीय अंतरिक्ष एजेंसी ISRO ने नासा से संपर्क साधा है और विक्रम लैंडर के इम्पैक्ट साइट की जानकारी मांगी है।

बताते चलें कि, नासा इसरो को एक पूरी रिपोर्ट सौंपेगा, जिसमें विक्रम लैंडर से संबंधित ज्यादा जानकारी मिल सकेगी। इससे पहले नासा ने विक्रम के बारे में सूचना देने की उम्मीद जताई थी, क्योंकि उसका लूनर रिकनैसैंस ऑर्बिटर उसी जगह के ऊपर से गुजरने वाला था जिस जगह पर भारतीय लैंडर विक्रम के गिरने की संभावना जताई गई थी।

नासा ने कहा था कि उसका LRO 17 सितंबर को विक्रम की लैंडिंग साइट से गुजरा था और उस क्षेत्र की हाई रिजोल्यूशन तस्वीरें पाई थी। पहले नासा के लूनर रिकनैसैंस ऑर्बिटर कैमरा की टीम को लैंडर की स्थिति या तस्वीर नहीं मिल सकी थी।

उस दौरान नासा ने कहा था कि जब लैंडिंग क्षेत्र से हमारा ऑर्बिटर गुजरा तो वहां धुंध थी इसलिए छाया में अधिकांश भाग छिप गया। इस बात की संभावना जताई जा रही है कि विक्रम लैंडर परछाई में छिपा हुआ है।

Share Now
Load More In Breaking News
Comments are closed.