Home उत्तर प्रदेश जितना ज्यादा ‘दल-दल’ होता है, उतना ही ‘कमल’ खिलता है- पीएम मोदी

जितना ज्यादा ‘दल-दल’ होता है, उतना ही ‘कमल’ खिलता है- पीएम मोदी

2 second read
0
68

शाहजहांपुर। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने विपक्षी दलों पर आज कटाक्ष किया कि जब दल के साथ दल हो तो ‘दल-दल’ हो जाता है और जितना ज्यादा दलदल होता है उतना ज्यादा कमल खिलता है। पीएम मोदी ने किसान कल्याण रैली में कहा,‘‘केन्द्र में ऐतिहासिक जनादेश देकर आपने जो सरकार बनायी है, उस पर उनको :विपक्षी दलों को: विश्वास नहीं है … कल संसद में हम लगातार उनसे पूछते रहे कि बताओ अविश्वास का कारण क्या है … जब कारण नहीं बता पाये तो गले पड़ गये।’ उन्होंने कहा,‘‘लेकिन वे ना तो हमें और ना ही देश को इसका कारण बता पाए। हम उनको समझाते रहे कि लोकतंत्र में जनादेश सबसे ऊपर है । जनता जनार्दन के मन मंदिर के खिलाफ ये खेल खेलना ठीक नहीं है। जनता से उलझना महंगा पड़ जाएगा लेकिन उन पर तो लगता है कि जुनून सवार था कि मोदी को सबक सिखाना है, हटाना है … मोदी कुछ नहीं है, ये सवा सौ करोड़ हिन्दुस्तानियों की ताकत है । बाबा साहेब भीमराव आंबेडकर के संविधान की ताकत है।’

प्रधानमंत्री ने कहा,‘‘जब ये शक्ति साथ रहेगी तब तक कोई दल … और अब तो एक दल नहीं … दल के साथ दल … जब दल के साथ दल हो तो दलदल हो जाता है और जितना ज्यादा दलदल होता है, उतना ज्यादा कमल खिलता है। ये उनका दलदल का खेल कमल खिलाने के लिए नया अवसर देने वाला है।’ मोदी ने विपक्ष पर फिर निशाना साधा कि अहंकार, दंभ और दमन की आदतें आज का युवा भारत एक पल भी सहने को तैयार नहीं है। ‘‘हम 2022 तक ‘न्यू इंडिया’ के उदय के संकल्प के साथ आगे बढ़ रहे हैं ।’ उन्होंने कांग्रेस को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि पहले कांग्रेस सरकार के एक प्रधानमंत्री ने कहा था कि दिल्ली से एक रुपया निकलता है तो गांव में जाते-जाते 15 पैसा हो जाता है । ये बात कांग्रेस के प्रधानमंत्री ने तब कही थी जब पंचायत से लेकर संसद तक उन्हीं का झंडा फहरता था । उन्हीं के लोग चुने जाते थे, और किसी दल को एंट्री ही नहीं मिलती थी । जब चारों ओर उनका राज चलता था तब उन्होंने ऐसा कहा था।

Share Now
Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.