1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. ऑक्सीजन मूवमेंट के लिए गृह मंत्रालय ने जारी किया गाइडलाइन, बिना किसी रोक-टोक के होगी…

ऑक्सीजन मूवमेंट के लिए गृह मंत्रालय ने जारी किया गाइडलाइन, बिना किसी रोक-टोक के होगी…

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : देश में जारी कोरोना संकट के बीच अस्पतालों को ऑक्सीजन की भारी किल्लत का सामना करना पड़ रहा है, जिसे लेकर राज्यों के बीच कड़वाहट भी उत्पन्न हो गया है। राज्यों के इसी कड़वाहट को खत्म करने के लिए केंद्रीय गृह मंत्रालय ने गुरूवार को एक दिशा-निर्देश जारी  किया है। जिसमें उन्होंने कहा है कि राज्यों के बीच ऑक्सीजन की मूवमेंट में किसी तरह को कोई रोक नहीं लगाई जाएगी। इसके साथ ही, गृह मंत्रालय ने कहा कि परिवहन प्राधिकरणों (स्टेट अथॉरिटीज) को कहा जाएगा कि वे ऑक्सीजन लेकर जा रही गाड़ियों को अंतरराज्यीय मूवमेंट को फ्री करें।

 

ऑक्सीजन मूवमेंट पर गृह मंत्रालय ने जारी किया गाइडलाइन

  1. गृह मंत्रालय की तरफ से जारी निर्देश में आगे कहा गया है कि ऑक्सीजन निर्माता और इसके सप्लायर के ऊपर यह रोक नहीं लगाई जा सकती है कि वह सिर्फ उसी राज्य या केन्द्र शासित प्रदेश को दे जहां पर उसका उत्पादन किया जा रहा है।
  2. शहरों और राज्यों के बीच बिना किसी तय समय के ऑक्सजीन गाड़ियों की मूवमेंट बिना की रोक-टोक के होगी।
  3. किसी भी अथॉरिटीज की तरफ से उस क्षेत्र से ऑक्सीजन ले जा रही गाड़ी को इसलिए मजबूर नहीं किया जा सकेगा कि वे किसी खास इलाके या उस जिले में ही ऑक्सीजन दे।

बता दें कि इससे पहले दिल्ली समेत कई राज्यों ने अस्पतालों में ऑक्सीजन की भारी कमी को लेकर केन्द्र से इसकी सप्लाई बढ़ाने की मांग की थी। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने यह आरोप लगाया कि दो पड़ोसी राज्य हरियाणा और उत्तर प्रदेश से दिल्ली में ऑक्सीजन की सप्लाई रोकी जा रही है। दूसरी तरफ दिल्ली के उप-मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने इस पूरे मामले में केन्द्र से दखल देने की मांग की थी।

मनीष सिसोदिया ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर कहा कि अस्पतालों में हम अभी ऑक्सीजन के लिए अंदरूनी व्यवस्था कर रहे हैं लेकिन कुछ समय बाद लोगों की जान बचाना मुश्किल हो जाएगा। उन्होंने कहा कि दिल्ली के कुछ अस्पतालों में ऑक्सीजन पूरी तरह खत्म हो गयी है, उनके पास कोई विकल्प नहीं है। कुछ राज्य राष्ट्रीय राजधानी के हिस्से की चिकित्सीय ऑक्सीजन पर नियंत्रण हासिल करने का प्रयास कर रहे हैं।

सिसोदिया ने कहा कि केंद्र सरकार द्वारा कोटा बढ़ाये जाने के बावजूद हरियाणा और उत्तर प्रदेश सरकार ऑक्सीजन की सप्लाई रोक रही हैं। कल दिल्ली को 378 MT की जगह सिर्फ 117 MT ऑक्सीजन मिला। मैं केंद्र से विनती करता हूँ कि चाहे पैरामिलिट्री फोर्स तैनात करनी पड़े, लेकिन किसी भी हाल में ऑक्सीजन पहुंचाएं। आपको बता दें कि राष्ट्रीय राजधानी में बुधवार को 24638 लोग संक्रमित हुए थे और 249 मरीजों की मौत हुई थी।

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...