Home उत्तर प्रदेश राजकीय मेडिकल कॉलेजों को वापस मिलीं 400 एमबीबीएस सीटें

राजकीय मेडिकल कॉलेजों को वापस मिलीं 400 एमबीबीएस सीटें

0 second read
0
145

नई दिल्ली। सुप्रीम कोर्ट ने प्रदेश के चार राजकीय मेडिकल कॉलेजों से छीनी गईं एमबीबीएस की 400 सीटें वापस लौटा दी हैं। बांदा, सहारनपुर, जालौन व आजमगढ़ के इन राजकीय मेडिकल कॉलेजों की 400 सीटों पर भारतीय चिकित्सा परिषद (एमसीआइ) ने मेडिकल पढ़ाई की अनुमति देने से मना कर दिया था। अब यह सीटों वापस मिलने के साथ ही प्रदेश में राजकीय एमबीबीएस सीटों की संख्या फिर 1990 हो गई है।

चिकित्सा शिक्षा महानिदेशक डॉ.केके गुप्ता ने बताया कि राजकीय मेडिकल कॉलेजों में सुधार के लिए प्रदेश सरकार के ईमानदार प्रयासों और मेडिकल विद्यार्थियों के हित को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट ने यह मौका दिया है। हालांकि सुप्रीम कोर्ट ने इसके लिए प्रदेश सरकार के मुख्य सचिव या चिकित्सा शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव से यह अंडरटेकिंग देने को कहा है कि तय समय में वह इन मेडिकल कॉलेजों में मानकों के मुताबिक सभी व्यवस्थाएं उपलब्ध कराएंगे। चूंकि नीट यूजी काउंसिलिंग 19 जून से शुरू हो रही है, इसलिए प्रदेश सरकार से 18 जून यानी सोमवार की सुबह अंडरटेकिंग देने को कहा गया है। हालांकि प्रदेश के निजी मेडिकल कॉलेजों में रोकी गईं एमबीबीएस की 1700 सीटों पर कोर्ट ने फिलहाल राहत नहीं दी है।

Load More In उत्तर प्रदेश
Comments are closed.