Home Breaking News सावरकर: मायावती का कांग्रेस पर अटैक, कहा- अब भी शिवसेना साथ क्यों?

सावरकर: मायावती का कांग्रेस पर अटैक, कहा- अब भी शिवसेना साथ क्यों?

5 second read
0
52

महाराष्ट्र चुनाव के बाद सावरकर का मुद्दा एक बार फिर से उठ खड़ा हुआ है। शनिवार को हुए दिल्ली के रामलीला मैदान में कांग्रेस की तरफ से भारत बचाओ रौली के आयोजन में कांग्रेस के नाताओं ने बीजेपी को जमकर घेरा लेकिन राहुल गांधी ने सावरकर पर जो बयान दिया उसपर अब कांग्रेस उल्टा फंसते नजर आ रही है।

राहुल गांधी को संजय राउत का नसिहयत

राहुल गांधी ने शनिवार को रैली में कहा कि उनका नाम ‘राहुल सावकर’ नहीं जिसके बाद से ही कई पार्टियां राहुल गांधी पर जमकर हमला बोल रही हैं। बीजेपी के बाद माहाराष्ट्र में गठबंधन के साथी शिवसेना के वरिष्ठ नेता संजय राउत ने राहुल गांधी के बयान को दुर्भाग्यपूर्ण बताया है। उन्होंने राहुल गांधी को यह तक कहा कि, राहुल गांधी को थोड़ा सावरकर पर पढ़ना चाहिए। अब BSP की अध्यक्ष मायावती ने कांग्रेस पर निशाना साधा है।

कांग्रेस का दोहरा चरित्र उजागर

मायावती ने अपने ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट करते हुए लिखा है कि, शिनसेना अपने मूल एजेंडे पर अभी भी कायम है, इसलिए इन्होंने नागरिकता संशोधन बिल पर केंद्र सरकार का साथ दिया और अब सावरकर को लेकर भी इसको कांग्रेस का रवैया बर्दाश्त नहीं है, फिर भी कांग्रेस पार्टी महाराष्ट्र सरकार में शिवसेना के साथ अभी भी बनी हुई है, तो यह सब कांग्रेस का दोहरा चरित्र नहीं है तो और क्या है?

सावरकर पर बीजेपी घेर चुकी है राहुल गांधी को

कल राहुल गांधी के बयान के बाद बीजेपी के कई नेताओं ने जमकर विरोध किया। बीजेपी के कई नेताओं ने राहुल गांधी को तो यह तक कह दिया कि, राहुल के नाम के आगे राहुल जिन्ना लगा देना चाहिए।

उधार का सरनेम लेने से कोई गांधी नहीं होता

राहुल गांधी के इस बयान के बाद गिरिराज सिंह ने उन्हें घेरते हुए कहा कि, उधार का सरनेम लेने से कोई गांधी नहीं होता। उन्होंने ट्वीट करते हुए लिखा कि, वीर सावरकर तो सच्चे देशभक्त थे, उधार का सरनेम लेने से कोई गांधी नहीं होता ,कोई देशभक्त नहीं बनता। देशभक्त होने के लिए रगों में शुद्ध हिंदुस्तानी रक्त चाहिए। वेश बदलकर बहुतों ने हिंदुस्तान को लूटा है अब यह नहीं होगा। इसके साथ ही इस ट्वीट पर उन्होंने राहुल गांधी, सोनिया गांधी और प्रियंका गांधी का फोटो शेयर करते हुए लिखा है कि, यह तीनों कौन है ?? क्या यह तीनों देश के आम नागरिक हैं??

नरसिम्हा राव ने कहा राहुल जिन्ना होना चाहिए

राज्य सभा सांसद जीवीएल नरसिम्हा राव ने इसपर तीखी प्रतिक्रिया देते हुए लिखा कि, आपके लिए राहुल गांधी अधिक उपयुक्त नाम राहुल जिन्ना है। आपकी मुस्लिम तुष्टिकरण की राजनीति और मानसिकता आपको सावरकर की नहीं, बल्कि मोहम्मद अली जिन्ना की योग्य वसीयतदार बनाती है।

राहुल गांधी हजार जनम ले ले तो भी ‘सावरकर’ नहीं बन सकते

बीजेपी प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि, राहुल गांधी अगर हजार जनम भी ले ले तो भी राहुल ‘सावरकर’ नहीं बन सकते। हाँ,अगर नाम बदलना ही है तो आज से हम उन्हें राहुल ‘थोड़ा-शर्मकर’ के नाम से बुलाएंगे। राहुल गांधी के ‘रेप इन इंडिया’ के बयान पर संबित पात्रा ने कहा कि, जो व्यक्ति मेक इन इंडिया को रेप इन इंडिया कहता हो उसके लिए यही नाम उचित है।

Share Now
Load More In Breaking News
Comments are closed.