Home Breaking News बसपा सुप्रीमो मायावती ने पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष को हटाया

बसपा सुप्रीमो मायावती ने पार्टी के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष को हटाया

0 second read
0
65

लखनऊ। बसपा की राष्ट्रीय अध्यक्ष मायावती ने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पर व्यक्तिगत टिप्पणी करने के आरोप में बसपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जय प्रकाश सिंह को उपाध्यक्ष पद से हटा दिया है। यही नहीं मायावती ने जय प्रकाश सिंह से नेशनल कोआर्डिनेशन की जिम्मेदारी भी छीन ली है। बता दें कि जय प्रकाश सिंह ने राजधानी लखनऊ में सोमवार को आयोजित बसपा के कॉडर कैंप में राहुल गांधी पर टिप्पणी करते हुए कहा था कि बच्चा या तो मां पर जाता है या बाप पर। राहुल पिता की जगह मां पर गए। पिता देश के थे। उन पर जाते तो भला हो सकता था। मां विदेशी महिला हैं, वे कभी सफल नहीं हो सकते। पीएम पद की एक मात्र विकल्प मायावती हैं। कर्नाटक में विपक्षी दलों के मंच पर सबसे बीच में मायावती थीं। उन्हें सभी दलों ने अपना नेता मान लिया है।

इस सम्मेलन में बसपा सुप्रीमो मायावती को भावी प्रधानमंत्री के रूप में पेश किया गया। नेशनल कोऑर्डिनेटर व सांसद वीर सिंह व राष्ट्रीय उपाध्यक्ष जय प्रकाश सिंह ने जोर देकर यह बताने का प्रयास किया था कि आज के समय में सीटों की संख्या ज्यादा मायने नहीं रखती है। कम सीट पाने वाले मुख्यमंत्री और प्रधानमंत्री बनते रहे हैं। वे इंदिरा गांधी प्रतिष्ठान में लखनऊ और कानपुर जोन के पदाधिकारियों के कैडर कैंप को संबोधित कर रहे थे।

जेपी ने गांधी टोपी के बहाने भी कांग्रेस को निशाने पर लेने की कोशिश की थी। उन्होंने कहा था कि अब गांधी की टोपी में वोट नहीं बचा है। वोट अंबेडकर के कोट में भरा पड़ा है। अब अंबेडकर की सरकार बनेगी। वेद, मनुस्मृति, गीता, रामायण सारे के सारे खोखले पड़ गए। एक पड़ले पर सारे ग्रंथ रख दीजिए, दूसरे पर संविधा। अब संविधान ही सब पर भारी है।

Load More In Breaking News
Comments are closed.