1. हिन्दी समाचार
  2. Madhya Pradesh
  3. दर्दनाक हादसा : भाई को लाने के लिए पापा के पीछे-पीछे बस तक पहुंची 2 साल की मासूम, स्कूल बस ने रौंदा

दर्दनाक हादसा : भाई को लाने के लिए पापा के पीछे-पीछे बस तक पहुंची 2 साल की मासूम, स्कूल बस ने रौंदा

Traumatic accident: 2-year-old innocent reached the bus behind the father to bring the brother, the school bus trampled; भाई को लाने गई 2 साल की मासूम बच्ची को बस ने रौंदा। बेटे को लाने गया था पिता। पिता के पीछे-पीछे गई बेटी।

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : भाई को लाने के लिए पापा के पीछे-पीछे 2 साल की मासूम चली गई। जो अपने भाई का स्कूल से आने का इंतजार कर रही थी। स्कूल बस आकर रुकी। पापा अपने बेटे को लाने के लिए अंदर बस में गए। वहीं मासूम नीचे थी। इतने में बस चालक ने बिना देखें बस को आगे बढ़ा दिया। जिससे अपने भाई का इंतजार कर रही मासूम की दर्दनाक मौत हो गई।

मध्य प्रदेश के बड़वानी में घटी घटना

आपको बता दें कि ये हादसा मध्यप्रदेश (madhya pradesh) के बड़वानी की है। जहां बस ड्राइवर की लापरवाही से 2 साल की मासूम बच्ची की जान चली गई। बच्ची के सिर के ऊपर से बस का पहिया निकल गया। मासूम अपने पापा के पीछे स्कूल बस में आ रहे भाई को लेने आई थी। घटना के बाद चलती बस से ही ड्राइवर कूद गया। उस वक्त बस में 12 बच्चे बैठे थे। आसपास के लोगों ने दौड़कर बस को ब्रेक लगाकर रोका और सभी बच्चों को बाहर निकाला। इस घटना का CCTV फुटेज भी सामने आया है।

जानिए कैसे हुआ हादसा

जानकारी के मुताबिक गंधावल के रहने वाले किराना व्यवसायी अंतिम राठौड़ का करीब चार साल का बेटा ग्राही राठौड़ पलसूद की अग्रवाल पब्लिक स्कूल में पढ़ने जाता है। बुधवार शाम को जब वह वापस आने वाला था तो दो साल की बेटी यशिका, पिता के साथ घर के सामने अपने भाई के आने का इंतजार कर रही थी। जैसे ही बस घर के सामने आकर रुकी, अंतिम, यशिका को वहीं छोड़कर दूसरी ओर बेटे को उतारने के लिए पहुंच गया। अंतिम ने बेटे को बस से उतारा, इतनी देर में यशिका भी पीछे-पीछे बस के सामने आ गई और स्कूल बस चालक ने अचानक बस आगे बढ़ा दी। इससे बालिका बस की चपेट में आ गई।

चलती बस छोड़कर भागा ड्राइवर

यशिका बस के सामने से गुजर रही थी। ड्राइवर ने बिना सामने देखे बस को आगे बढ़ा दिया। इसी दौरान मासूम बस के पहिए के नीचे आ गई। हादसे के बाद ड्राइवर चलती बस से कूदकर भाग गया। मौके पर मौजूद लोगों ने सूझबूझ दिखाते हुए किसी तरह बस का ब्रेक लगाकर उसे रोका। उस दौरान बस में 12 बच्चे सवार थे।

मामला दर्ज, ड्राइवर  की तलाश

पाटी थाना प्रभारी, पिंकी सिसौदिया का कहना है कि परिजनों की शिकायत पर आरोपी ड्राइवर के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। हमने बस को जब्त कर के थाने पर खड़ा कर दिया है। पूरे मामले की जांच की जा रही है। ड्राइवर फरार है, उसकी तलाश की जा रही है। उसके घर भी पुलिस की एक टीम पहुंची थी लेकिन वह घर पर नहीं मिला।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...