Home बड़ी खबर जामिया हिंसा में पुलिस ने 10 को किया गिरफ्तार, एक भी छात्र नहीं

जामिया हिंसा में पुलिस ने 10 को किया गिरफ्तार, एक भी छात्र नहीं

1 second read
0
35

जामिया में रविवार को हुई हिंसा मामले में दिल्ली पुलिस ने 10 लोगों को गिरफ्तार किया है। और सबसे बड़ी बात यह है कि इन 10 लोगों में से एक भी जामिया यूनिवर्सिटी के छात्र नहीं हैं। वहीं जामिया में हुई हिंसा को लेकर पुलिस का कहना है कि यह हिंसी पुरी तैयारी के साथ की गई है।

जामिया में हुई हिंसा की तैयारी पहले से थी

दिल्ली पुलिस के मुताबिक, शुरुआती जांच में कहा जा रहा है कि जामिया नगर इलाके में जो हिंसा हुई उसकी तैयारी पहले से की गई थी। गीले कपड़े लेकर आंसू गैस के गोले पर डाले गए थे, पेट्रोल बम का इस्तेमाल हुआ था। जो यह साबित करता है कि इसकी प्लानिंग पहले से की गई थी।

गिरफ्तार हुए 10 में से एक भी छात्र नहीं, तीन घोषित बदमाश

वहीं, दस लोग जो गिरफ्तजार किए गए हैं उनमें से तीन घोषित बदमाश हैं और सभी जामिया और ओखला इलाके के रहने वाले हैं। बताते चलें कि नागरिकता संशोधन विधेयक को लेकर जामिया में हुए हिंसक प्रदर्शन के बाद पुलिस ने कार्रवाई की जिसके विरोध में छात्र अब भी अड़े हुए हैं। वहीं, छात्रों के साथ साथ कई जगह आम नागरिक और साथ ही कई राजनीतिक पार्टियां भी इसका विरोध कर रही हैं। कहीं पर इसका शांतिपूर्ण से प्रदर्शन किया जा रहा है तो कहीं हिंसक रूप से किया जा रहा है।

प्रधानमंत्री ने की अपील

पीएम ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि बहस, चर्चा और असहमति लोकतंत्र का अहम हिस्सा हैं। लेकिन सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाना और सामान्य जनजीवन को नुकसान पहुंचाना हमारा स्वभाव नहीं है।

इसके आगे उन्होंने कहा कि, नागरिकता संशोधन ऐक्ट 2019 को संसद के दोनों सदनों ने बड़ी बहुमत से पास किया है। बड़ी संख्या में राजनीतिक दल और सांसदों ने इसका समर्थन किया है। यह कानून हमारे सदियों पुरानी शांति, भाईचारा और करुणा को दर्शाने वाला है।

Share Now
Load More In बड़ी खबर
Comments are closed.