1. हिन्दी समाचार
  2. क्राइम
  3. मां के बिना रह सकती थी मासूम बेटी, 15 बार चाकू से वार कर उतारा मौत के घाट, हुई मौत

मां के बिना रह सकती थी मासूम बेटी, 15 बार चाकू से वार कर उतारा मौत के घाट, हुई मौत

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : एक मां ने अपनी बेटी को सिर्फ इसलिए चाकू से गोद कर मार दिया की वह उसके बिना नहीं रह सकती थी। मां को यह डर था कि अगर वह मर जाएगी, तो उसकी बेटी का क्या होगा। क्योंकि वह अपनी मां के बिना नहीं सकती थी। इसलिए मां ने पहले अपनी बेटी को 15 बार चाकू से गोदकर हत्या की और मौत के घाट उतार दिया। फिर खुद पर जानलेवा हमला किया।

आपको बता दें कि ये खौफनाक मामला ब्रिटेन की राजधानी लंदन की है। जहां एक मां ने अपनी ही 5 साल की बेटी को चाकू से गोदकर मौत के घाट (Mother stabbed 5 year old Daughter) उतार दिया। 36 वर्षीय सुथा शिवनाथम (Sutha Sivanantham) को इस हैवानियत के लिए पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है और कोर्ट में सुनवाई चल रही है।

द सन की रिपोर्ट के मुताबिक, कोर्ट के दस्तावेजों से पता चला है कि सुथा शिवनाथम (Sutha Sivanantham) ने अपनी पांच साल की बेटी की चाकू मारकर हत्या कर दी, क्योंकि उसे डर था कि वह कोविड-19 से मर जाएगी और उसे लगा कि लड़की उसके बिना नहीं रह सकती।

रिपोर्ट के अनुसार, सुथा शिवनाथम (Sutha Sivanantham) ने अपने दक्षिण लंदन के फ्लैट के बेडरूम में बेटी सयागी शिवनाथम पर 15 बार चाकू से वार किया और मौत के घाट उतार दिया। इसके बाद खुद पर भी चाकू से वार किया। इसके बाद पड़ोसियों ने दोनों को अस्पताल पहुंचाया था, लेकिन डॉक्टरों ने बच्ची को मृत घोषित कर दिया।

कोर्ट में सुनवाई के दौरान बच्ची के पिता सुगंथन शिवनाथम (Suganthan Sivanantham) ने बताया कि कोरोना महामारी और प्रतिबंधो ने उनकी पत्नी पर बुरा असर डाला। उन्होंने कहा कि वह डर गई थी उसे कोरोना हो जाएगा और वह मर जाएगी। इसके बाद वह कटघरे में जोर-जोर से रोने लगे।

अदालत में पेश दस्तावेजों के अनुसार, सुथा शिवनाथम (Sutha Sivanantham) और सुगंथन की साल 2006 में अरेंज मैरेज हुई थी। इसके बाद से ही वह लंदन में रह रही है, हालांकि उसे अंग्रेजी नहीं आती है।

सुथा शिवनाथम (Sutha Sivanantham) का इलाज करने वाले एक मनोचिकित्सक ने बताया कि, ‘कोविड-19 महामारी और लॉकडाउन के कारण दिमाग पर गहरा असर हुआ है और सोशल आइसोलेशन ने गंभीर रूप से मानसिक बीमार कर दिया।’ वहीं सुथा के पति ने कहा कि, ‘इस घटना के बाद से अपनी पत्नी से बात नहीं की है, लेकिन मुझे पता है कि वह इसके लिए जिम्मेदार नहीं है। मुझे पता है कि अगर वह ठीक होती तो हमारी बेटी को कभी नहीं मार पाती।’

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...
RNI News Ads