1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. दुनिया में चीन के ‘कोरोन वायरस’ का खौफ, देखिए क्या है कोरोन वायरस

दुनिया में चीन के ‘कोरोन वायरस’ का खौफ, देखिए क्या है कोरोन वायरस

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

कोरोना वायरस अब चीन से निकलकर दूसरे देशों में भी अपना दायरा बढ़ा रहा है। अब तक इस वायरस के तीन मामले जापान और थाईलैंड और एक मामला दक्षिण कोरिया में सामने आ चुका है। आस्ट्रेलिया में भी चीन से लौटे एक शख्स की गगन जांच की जा रही है। पूरी दुनिया में इस वायरस को लेकर कई देशों ने चीन की यात्रा करने वाले लोगों को अलर्ट जारी किया है। भारत ने भी इसी तरह का अलर्ट जारी कर रखा है। अगर चीन की बात करे तो करीब 220 मामले अब तक सामने आ चुके हैं, जबकि इस वायरस की चपेट में आने से नौ लोगों की मौत हो चुकी है।

इस बीमारी को फैलने से रोकने के लिए वाश्विक स्वास्थ्य एजेंसियां जुटी हुई हैं, भारत में भी इस बीमारी को लेकर काफी सर्तकता बरती जा रही है। देश के 7 हवाईअड्डों पर चीन और हॉन्ग कॉन्ग से आने वाले लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग की जा रही है।

कोरोना वायरस से भारत हुआ चौकन्ना

  • नागरिक विमानन मंत्रालय ने मंगलवार को देश के 7 हवाईअड्डों चेन्नै, बेंगलुरु, हैदराबाद, कोचीन, दिल्ली, मुंबई और कोलकाता को चीन चीनी यात्रियों की थर्मल स्क्रीनिंग करने का आदेश दिया है।
  • अगर कोई शख्स या विमानकर्मी में वायरस से जुड़ा कोई संकेत पाए जाएंगे तो इस बारे में स्वास्थ्य कर्मचारियों को जानकारी दी जाएगी।
  • स्वास्थ मंत्रालय के आदेश के बाद विमानन मंत्रालय ने एयरलाइंस और एयरपोर्ट्स के लिए ऐक्शन प्लान तैयार कर लिया है।
  • अमेरिका के वॉशिंगटन में इस वायरस से पीड़ित एक शख्स की पहचान हुई है।
  • शख्स हाल ही में चीन की यात्रा कर देश वापस लौटा था।

स्वास्थ्य अधिकारियों का कहना है कि उन्हें नहीं पता कि यह वायरस कितना खतरनाक है और कैसे फैल रहा है, जिस तेजी से पीड़ित लोगों की संख्या बढ़ रही है, उसके बाद से सभी देश इस बीमारी से पीड़ित लोगों की पहचान की कोशिशें तेज कर दी है। मंगलवार को WHO ने इस बात पर चर्चा कर कहा कि, क्या इसे आपातकाल घोषित कर दिया जाए।

कोरोन वायरस के बारे में महत्वपूर्ण जानकारी

  • आमतौर पर कोरोन वायरस जानवरों में पाए जाते हैं।
  • विज्ञानिकों का मानना है कि कई बार जानवरों से इसका संचार इंसानों में भी हो जाता है।
  • इस वायरस से ग्रसित होने पर श्वास संबंधी गंभीर बीमारियां हो सकती हैं।
  • इस बिमारी का कोई खास इलाज नहीं है।
  • अधिकारियों की माने तो यह बिमारी लार और कफ के जरिए भी फैल रहे हैं।
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...