1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. फ़िल्मों के ज़रिए बिगाड़ी गई बिहार की छवि को हम उद्योग लगा कर सुधारेंगे: शाहनवाज़ हुसैन

फ़िल्मों के ज़रिए बिगाड़ी गई बिहार की छवि को हम उद्योग लगा कर सुधारेंगे: शाहनवाज़ हुसैन

12 मई को दिल्ली में होगी "बिहार इंवेस्टर्स मीट", वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण करेंगी शुभारंभ!तेज़ रफ़्तार से हो रहा है बिहार का औद्योगिकीकरण, एक साल में आए 36,253 करोड़ के निवेश प्रस्ताव, पसंदीदा इंवेस्टमेंट डेस्टिनेशन बन रहा है बिहार: शाहनवाज़ हुसैन

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

रिपोर्ट: ख़ुर्शीद रब्बानी

नई दिल्ली

दिल्ली में एक प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज़ हुसैन ने कहा कि बिहार, औद्योगिक ईकाईयों की स्थापना के लिए निवेश का पसंदीदा डेस्टिनेशन बन रहा है। हुसैन ने बताया कि पिछले एक साल में 555 औद्योगिक ईकाईयों की स्थापना के लिए 36 हजार 253 करोड़ रुपए के निवेश प्रस्ताव आए हैं। पिछले ही महीने बिहार में दो बड़ी औद्योगिक ईकाईयों का शुभारंभ बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के हाथों हुआ। उद्योग मंत्री शाहनवाज़ हुसैन ने पत्रकारों से बातचीत में कहा कि बेगुसराय के बरौनी में पेप्सी के बॉटलिंग प्लांट का शुभारंभ हुआ तो पूणियां में ग्रीनफील्ड ग्रेन बेस्ड इथेनॉल प्लांट का शुभांरभ हुआ जो केंद्र सरकार और बिहार की इथेनॉल पॉलिसी 2021 के बाद देश का पहला ग्रीनफील्ड ग्रेन बेस्ड इथेनॉल उत्पादन ईकाई है। पिछले एक साल में बिहार में छोटी, बड़ी 87 औद्योगिक ईकाईयां स्थापित हो चुकी हैं। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में बिहार उद्योग क्षेत्र में पहचान बना रहा है और राज्यवासियों की उम्मीदें पूरी कर रहा है। बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने 12 मई को दिल्ली में होने जा रही बिहार इंवेस्टर्स मीट 2022 के बारे में जानकारी देते हुए बिहार में हो रहे औद्योगिकीकरण के बारे में भी कई अहम जानकारियां साझा कीं। उन्होंने कहा कि पिछले एक साल में बिहार ने उद्योग क्षेत्र में काफी तरक्की की है और बिहार के औद्योगिकीकरण की रफ्तार आने वाले दिनों में और तेज़ हो, इसके लिए हम देश के बड़े निवेशकों को बिहार आमंत्रित कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि काफी लंबे अँतराल के बाद बिहार इंवेस्टर्स मीट का आयोजन किया गया है। बिहार इंवेस्टर्स मीट 2022 अगले हफ्ते यानी 12 मई 2022 को दिल्ली के ताज मान सिंह होटल में होगा।

बिहार इंवेस्टर्स मीट 2022 के बारे में विस्तृत जानकारी देने के लिए दिल्ली में बिहार भवन में आयोजित प्रेसवार्ता में बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज़ हुसैन ने कहा कि वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण बिहार इंवेस्टर्स मीट 2022 का शुभारंभ करेंगी और इसमें देश के कई बड़े निवेशक शामिल होंगे।

उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज़ हुसैन ने कहा कि देश का इथेनॉल हब बनने की ओर बिहार पहले ही कदम बढ़ा चुका है। 2021 में बिहार सरकार द्वारा लाई गई इथेनॉल पॉलिसी काफी सफल रही और 30 हजार 382 करोड़ के निवेश प्रस्ताव बिहार में सिर्फ इथेनॉल ईकाईयों की स्थापना के लिए आए। इऩमें से पहले चरण में बिहार के अलग अलग इलाकों में 17 इथेनॉल उत्पादन कंपनियां स्थापित होनी शुरु हो गई है। उन्होंने कहा कि 30 अप्रैल को पूर्णियां के गणेशपुर में 105 करोड़ की लागत से बिहार ही नहीं बल्कि केंद्र व बिहार की इथेनॉल पॉलिसी 2021 के बाद देश की पहली ग्रीनफील्ड ग्रेन बेस्ड इथेनॉल इकाई है जिसका शुभारंभ मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने किया। उन्होंने कहा कि इसके अलावा गोपालगंज में 2 और आरा में एक यानी 3 और इथेनॉल प्लांट बनकर तैयार हैं और जल्द इसका शुभारंभ किया जाएगा।

सैयद शाहनवाज़ हुसैन ने कहा कि 15 अप्रैल 2022 को बेगुसराय, बरौनी में वरुण बेवरेजेज लिमिटेड द्वारा स्थापित पेप्सी के जिस बॉटलिंग प्लांट का शुभारंभ हुआ उसमें कुल 550 करोड़ रुपए का निवेश होना है। इनमें से पहले चरण में 322 करोड़ रुपए का निवेश का काम पूरा कर उत्पादन शुरु हो गया है।

उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज़ हुसैन ने कहा कि बिहार में उद्योग लगाने वाली कंपनियों को रेड कार्पेट वेल्कम मिल रहा है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के साथ पूरी सरकार राज्य में उद्योगों की स्थापना के लिए तत्पर है। पिछले एक साल में बिहार में निवेश को प्रोत्साहित करने और औद्योगिक ईकाईयों की स्थापना को तेज करने के लिए बहुत से कदम उठाए गए हैं। उन्होंने कहा कि हमारे पास अलग अलग जिलों में 2800 एकड़ का एक बड़ा लैंड पूल है और सिंगल विंडो क्लीयरेंस के माध्यम से बिहार में 7 दिनों में सारे क्लीयरेंसेस देकर औद्योगिक ईकाईयों की स्थापना के लिए निवेशकों को पूरी मदद दी जा रही है।

उन्होंने कहा कि पिछले साल लाई गई इथेनॉल उत्पादन प्रोत्साहन नीति और ऑक्सीजन उत्पादन प्रोत्साहन नीति काफी सफल रही। उऩ्होंने कहा 2022 में सेक्टर केंद्रित कई नीतियां तैयार हैं जो जल्द ही लाई जाएंगी। उऩ्होंने कहा कि टेक्सटाइल सेक्टर में रोजगार की सबसे अधिक संभावना है और इसके लिए प्रशिक्षित कामगारों की उपलब्धता के साथ अन्य लिहाज से भी ये बिहार के लिए उपयुक्त है इसलिए बहुत जल्द हम टेक्सटाइल व लेदर पॉलिसी 2022 लाने वाले हैं। उन्होंने कहा कि टेक्सटाइल व लेदर पॉलिसी 2022 के अलावा बिहार लॉजिस्टिक्स पॉलिसी 2022, बिहार एक्सपोर्ट पॉलिसी 2022 भी रोलआउट के लिए तैय़ार है। उन्होंने कहा कि कई आकर्षक industry-friendly incentive slabs से लैस ये नीतियां बिहार में तेज रफ़्तार और समग्र औद्योगिक विकास सुनिश्चित करने में मददगार होंगी।

उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज़ हुसैन ने कहा कि बिहार औद्योगिक निवेश प्रोत्साहन नीति 2016 (2020 में संसोधित) और कुछ सेक्टर्स के लिए लाई गई विशिष्ट नीतियों के जरिए बिहार में निवेश बढ़ाने के प्रयास हुए हैं और इसमें अच्छी सफ़लता प्राप्त हुई है। बिहार में स्थापित हो रही या स्थापित होने की प्रक्रिया में आ चुकी सभी औद्योगिक ईकाईयों को हर संभव मदद पहुंचाई जा रही है, हर कदम पर उनकी हैंड होल्डिंग कर उऩ्हें प्रोत्साहित करने का प्रयास हो रहा है।

उऩ्होंने कहा कि बिहार में निवेश को प्रोत्साहित करने और औद्योगिक विकास सुनिश्चित करने के मकसद से हाल में कई महत्वपूर्ण कदम उठाए गए हैं।

  • कई शर्तों/नियमों को आसान बनाकर सिंगल विंडो सिस्टम को लागू किया गया है।
  • इंडस्ट्रियल पार्क, इंटेगरेटेड मैनूफ्कैचरिंग क्लस्टर (गया), मेगा फूड पार्क( मुजफ्फरपुर), इलेक्ट्रिक मैनुफैक्चरिंग क्लस्टर (बेगुसराय), प्रस्तावित आईटी पार्क(पटना) और जरुरी आधारभूत संरचना का विकास कर राज्य के औद्योगिक विकास के लिए अनुकूल स्थितियां बनाई जा रही हैं। बिहार में विकसित हो रही सभी औद्योगिक क्षेत्र IPRS 2.0 compliant हैं।
  • नई और पुरानी औद्योगिक ईकाईयों को हर तरह से सहयोग दिया जा रहा है।

उद्योग मंत्री ने कहा कि 12 मई 2022 को दिल्ली के ताज मान सिंह होटल में बिहार इंवेस्टर मीट 2022 का आयोजन किया जा रहा है जिसका फोकस होगा कि पूर्वोत्तर भारत क्षेत्र को ध्यान में रखते हुए बिहार निवेश का सबसे बेहतर डेस्टिनेशन बने। 12 मई 2022 को होने वाले Bihar Investors’ Meet 2022 में उद्घाटन सत्र के साथ साथ देश के प्रतिष्ठित निवेशकों के साथ Business to Government meeting session भी होगा।

वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण Bihar Investors’ Meet 2022 के मुख्य अतिथि के रुप में इसका शुभारंभ करेंगी और केंद्रीय इस्पात मंत्री राम चंद्र प्रसाद सिंह व अन्य कई मंत्रीगण इसमें शामिल होंगे।

बिहार के उद्योग मंत्री सैयद शाहनवाज हुसैन ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का सपना है कि बिहार उद्योग क्षेत्र में अपनी पहचान बनाकर राज्यवासियों का सपना पूरा करे और ये जरुर पूरा होगा।

उऩ्होंने कहा कि बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के नेतृत्व में सड़क, बिजली, कानून व्यवस्था, संरचनात्मक ढांचा विकास के क्षेत्र में पिछले 15 सालों में राज्य में जबरदस्त प्रगति हुई। वो हमारे ब्रैंड एम्बैसेडर हैं। उन्होंने कहा कि बिहार में उद्योग के टेकऑफ के लिए रनवे तैयार है और अब हम प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के आशीर्वाद से और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी के नेतृत्व में पूरी ताकत से जुटे हैं। उन्होंने कहा कि बिहार में बिजनेस का इकोसिस्टम काफी बेहतर हुआ है। उद्योग जगत में बिहार को लेकर पूर्व में बनी छवि बदली है और उद्योग क्षेत्र में बिहार पहचान बनाने में कामयाब रहेगा, इसमें कोई शक नहीं है

 

इन टॉपिक्स पर और पढ़ें:
Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...