1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. रेप मामले में उम्रकैद की सजा काट रहे आसाराम के बेटे नारायण साई को सुप्रीम कोर्ट का बड़ा झटका, नहीं मिली इस बात की इजाजत

रेप मामले में उम्रकैद की सजा काट रहे आसाराम के बेटे नारायण साई को सुप्रीम कोर्ट का बड़ा झटका, नहीं मिली इस बात की इजाजत

Supreme Court's big blow to Asaram's son Narayan Sai, who is serving life sentence in rape case; रेप मामले में उम्रकैद की सजा काट रहे आसाराम के बेटे नारायण साई को सुप्रीम कोर्ट का बड़ा झटका। गुजरात हाई कोर्ट के आदेश को किया रद्द। दो हफ्तों के फरलो को किया रद्द।

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : रेप मामले में उम्रकैद की सजा काट रहे आसाराम (Asaram) के बेटे नारायण साई (Narayan Sai) को सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court)  से बड़ा झटका लगा है। जिससे उनके उम्मीदों पर पानी फिर गया। गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट ने नारायण साई को दो हफ्तों का फरलो देने के गुजरात हाई कोर्ट (Gujarat HC) के आदेश को रद्द कर दिया है।

गुजरात सरकार ने सुप्रीम कोर्ट से कहा कि नारायण साई को ‘फरलो’ नहीं दी जानी चाहिए क्योंकि वह जेल के भीतर आपराधिक गतिविधियों में शामिल रहा है। साईं ने इस आधार पर ‘फरलो’ मांगी है कि उसे पूर्व में कोरोना वायरस से संक्रमित हुए अपने पिता आसाराम की देखरेख करनी है।

जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ कि अध्यक्षता वाली पीठ ने गुजरात सरकार की याचिका पर नारायण साई को हाई कोर्ट द्वारा दी गई फरलो को रद्द कर दिया। गुजरात हाई कोर्ट की सिंगल पीठ ने 24 जून को नारायण साई को फरलो की मंजूरी दी थी। बता दें कि इससे पहले दिसंबर 2020 में हाई कोर्ट ने साई की मां की तबीयत खराब होने के कारण उसे फरलो दी थी।

गौरतलब है कि सूरत की एक कोर्ट ने नारायण साई को 26 अप्रैल 2019 को भारतीय दंड संहिता की धारा 376 (रेप), 377 (अप्राकृतिक अपराध), 323 (हमला), 506-2 (आपराधिक धमकी) और 120-बी (षड्यंत्र) के तहत दोषी ठहराया था और उम्रकैद की सजा सुनाई थी।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...