1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. अखिलेश यादव से क्यों हाथ मिलाना चाहते हैं शिवपाल यादव?

अखिलेश यादव से क्यों हाथ मिलाना चाहते हैं शिवपाल यादव?

By RNI Hindi Desk 
Updated Date

कभी समाजवादी पार्टी को छोड़कर अलग पार्टी बनाने वाले शिवपाल यादव ने सालों बाद अपने भतीजे अखिलेश यादव पर नरम रुख अपनाया है। मंगलवार को शिवपाल यादव ने समाजवादी पार्टी के साथ प्रगतिशील समाजवादी पार्टी को एक होने की बात कहकर सियासी गलियारों में चर्चाएं तेज कर दी थी। शिवपाल यादव के इस बयान के बाद जानकारों का कहना है कि विधानसभा चुनाव तक चर्चा अमल में बदल सकती है।

2017 के विधानसभा चुनाव के पहले एसपी के दो मजबूत ध्रुवों अखिलेश यादव और शिवपाल यादव की तल्खी परवान चढ़ चुकी थी। चुनाव के बाद शिवपाल यादव ने न केवल पार्टी छोड़ी बल्कि अपना अलग दल भी बना लिया।

इस दौरान मुलायम सिंह यादव के आशीर्वाद के लिए चाचा-भतीजे में जंग जरूर चली। इसमें भी पलड़ा अखिलेश यादव का ही भारी रहा। शिवपाल के मंच से मुलायम सिंह यादव एसपी को जिताने की अपील कर गए और लोकसभा चुनाव में भी एसपी की रणनीति तय करते रहे। अब एक फिर 22 नवंबर को मुलायम सिंह यादव के जन्मदिन के पहले शिवपाल यादव ने अपना परिवार प्रेम जाहिर किया है।

मुलायम परिवार से जुड़े करीबी शिवपाल यादव के बयान और कुछ दिनों पहले हुए अखिलेश यादव के इशारों के बीच उम्मीद की डोर तलाश रहे हैं। शिवपाल अब भी समाजवादी पार्टी से ही विधायक हैं।

पिछले दिनों एसपी ने उनकी सदस्यता रद्द करने की याचिका जरूर दायर की थी, लेकिन प्रेस कॉन्फ्रेंस में अखिलेश यादव ने इसे वापस लेने का इशारा भी किया था। अब शिवपाल यादव फिर भतीजे को सीएम बनाने के लिए संकल्पित होने की बात कर रहे हैं।

वहीं एसपी के एक नेता का कहना है कि शिवपाल पार्टी में एक पावर सेंटर के तौर पर थे। पार्टी के बाहर जाने के बाद दूसरे बड़े दलों में भी उनके लिए वह भूमिका कभी नहीं मिल सकती, जो उनकी एसपी में थी।

अपने दम पर प्रदर्शन का हश्र उन्होंने देख लिया, ऐसे में ‘घर वापसी’ ही बेहतर विकल्प है। अपने कोर वोटरों और ताकतों को बटोरकर 2022 के चुनाव की तैयारी में लगी एसपी और अखिलेश यादव को भी विनम्र दिख रहे शिवपाल से बहुत दिक्कत होने के आसार नहीं है।

इसलिए बयानों में दिख रही यह नजदीक विधानसभा चुनाव आने तक हकीकत में भी बदल सकती है। हालांकि, दोनों ही पार्टी के अधिकृत प्रवक्ता इस मामले पर कुछ भी बोलने को तैयार नहीं है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...