1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. कोरोना के कारण देश छोड़ विदेश को निकलने लगे कई अमीर, ‘प्राइवेट जेट’ बुक कर…

कोरोना के कारण देश छोड़ विदेश को निकलने लगे कई अमीर, ‘प्राइवेट जेट’ बुक कर…

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : देश में कोरोना संक्रमण की लगातार बढ़ती रफ्तार को लेकर अब देश के अधिकतर अमीर लोग विदेश की ओर रूख करने लगे है, क्योंकि उन्हें ये डर है कि वे देश की अबो हवा में सुरक्षित नहीं है। इसे लेकर वे बकौल प्राइवेट जेट का पैसा अदा कर रहे है। ब्लूमबर्ग की एक खबर के मुताबिक दिल्ली की एक प्राइवेट जेट फर्म क्लब वन एयर के सीईओ राजन मेहरा ने बताया कि, ‘सिर्फ अल्ट्रा-रिच लोग इस श्रेणी में नहीं हैं, बल्कि जो लोग भी प्राइवेट जेट का पैसा अदा कर सकते हैं वो टिकट बुक करा रहे हैं।’

आपको बता दें कि कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच कई बॉलीवुड सितारे भी विदेशों का रुख कर चुके हैं। कई हस्तियों को मालदीव में स्पॉट भी किया गया है। जिसके बाद कई देशों ने अमीर भारतीयों के विदेश का रुख करने को लेकर तरह-तरह की रोक लगानी शुरू कर दी है। जिनमें प्रमुख ब्रिटेन, कनाडा, संयुक्त अरब अमीरात और हांगकांग जैसे दर्जनों देश शामिल है। कुछ देशों का अभी भी ऐसे कदमों की घोषणा करना बाकी है। आपको बता दें कि ये देश दक्षिण एशियाई देशों से आने वाले यात्रियों के लिए यात्रा प्रतिबंध लगा रहे हैं।

बता दें कि मालदीव ने मंगलवार से भारतीयों के पूरे देश में घूमने पर रोक लगाने की घोषणा की है, सिवाय कुछ रिजॉर्ट को छोड़कर, इसके चलते आखिरी समय में इन रिजॉर्ट में जाने के लिए भारी भीड़ देखा गया।

राजन मेहरा बताते हैं कि इतना ही नहीं दुबई और लंदन में भी प्रतिबंधों की घोषणा होने से पहले भारी तादाद में लोगों के बीच वहां जाने का रुख देखा गया। मेहरा इससे पहले भारत में कतर एयरवेज के प्रमुख रह चुके हैं।

दिल्ली से दुबई की टिकट की कीमत 15 लाख

राजन मेहरा ने बताया कि दिल्ली से दुबई की एक तरफ की टिकट करीब 15 लाख रुपये की है। इसमें ग्राउंड हैंडलिंग और अन्य शुल्क शामिल है। आपको बता दें कि प्राइवेट जेट वाले विदेश से खाली आने की रिटर्न जर्नी का शुल्क भी वसूलते हैं।

वहीं देश में कोरोना संक्रमण की बात करें तो, सोमवार को देश में कोरोना वायरस संक्रमण के 3.52 लाख से अधिक नए मामले सामने आए। पिछले साल कोरोना वायरस संक्रमण फैलना शुरू होने के बाद दुनियाभर में किसी भी देश में ये एक दिन में आने वाले सर्वाधिक मामले हैं। गौरतलब है कि एक तरफ देश के आम लोग अस्पतालों में बेड, ऑक्सीजन और दवाओं की कमी का सामना कर रहे है। वहीं दूसरी ओर अधिक से अधिक अमिर लोग विदेश यात्रा पर जा रहे है। अगर ये अपने इन्कम का थोड़ा भी हिस्सा आम लोगों के हित एवं देशहित में दान करते तो, लेकिन नहीं क्योंकि इन्हें अभी खुद को सुरक्षित करना है, जिसके लिए विदेश जाना और वहां के लक्जिरियस लाइफ का लुत्फ उठाना है। बहरहाल जो भी हो, ऐसी ही स्थिति अन्य देशों की भी है, लेकिन वहां से किसी अमीर को कहीं बाहर जानें की खबर अभी तक नहीं आई है।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...