1. हिन्दी समाचार
  2. देश
  3. JK : कश्मीर में हो रही हिंसा की घटनाओं पर विदेश मंत्रालय ने जताई चिंता, अंतरराष्ट्रीय समुदाय से की ये अपील

JK : कश्मीर में हो रही हिंसा की घटनाओं पर विदेश मंत्रालय ने जताई चिंता, अंतरराष्ट्रीय समुदाय से की ये अपील

Jammu Kashmir : जम्मू-कश्मीर में गुरूवार को आतंकियों ने अपनी नापाक हरकतों को अंजाम देते हुए दो टीचरों की हत्या कर दी। इसे लेकर कश्मीर में काफी रोष है। वहीं जम्मू-कश्मीर में लगातार बढ़ती हिंसा को लेकर केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने हाई लेवल मीटिंग की।

By Amit ranjan 
Updated Date

नई दिल्ली : कश्मीर में हो रही हिंसा की घटनाओं पर विदेश मंत्रालय ने चिंता जताते हुए अंतरराष्ट्रीय समुदाय से बड़ी अपील की है। मंत्रालय ने कहा कि सीमा पार से आतंकवादियों की घुसपैठ चिंता का वषय है। पाकिस्तान प्रायोजित आतंकवाद अभी भी घाटी में शांति बहाली के लिए खतरा बना हुआ है। इसके साथ ही उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय समुदाय को इस संबंध में कदम उठाना चाहिए।

केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने की हाईलेवल मीटिंग

वहीं दूसरी तरफ, जम्मू-कश्मीर में आतंकियों की बढ़ती दखल के बाद केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने हाईलेवल मीटिंग की है। गृह मंत्रालय में करीब पौने तीन घंटे की इस मीटिंग में केंद्रीय गृहमंत्री के अलावा एनएसए अजीत डोभाल, आईबी चीफ अरविंद कुमार, गृह सचिव अजय भल्ला, सीआरपीएफ चीफ कुलदीप सिंह, बीएसएफ के डीजी पंकज सिंह मौजूद रहे।

दो टीचरों की हत्या कर दी

आपको बता दें कि जम्मू-कश्मीर में आतंकवादियों ने एक बार फिर अपनी नापाक हरकतों को अंजाम देते हुए दो टीचरों की हत्या कर दी। आतंकवादियों ने श्रीनगर के ईदगाह संगम इलाके के एक स्कूल में इस हत्याकांड को अंजाम दिया। आतंकवादियों ने महिला प्रिंसिपल सुपिंदर कौर हैं और दूसरे शिक्षक का नाम दीपक चांद के सिर में गोली मार दी।

जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह का बयान

इस घटना पर जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने कहा-बेगुनाह लोग जो समाज की बेहतरी के लिए लगे हैं, उन्हें निशाना बनाया गया है। दहशतगर्द बॉर्डर पार से पाकिस्तान के इशारों पर इस तरह की हरकतों को अंजाम दे रहे हैं। जम्मू-कश्मीर के उपराज्यपाल(J&K LG) मनोज सिन्हा (Manoj Sinha) ने इस हमले की कड़ी निंदा करते हुए कहा कि निर्दोष लोगों पर जघन्य आतंकी हमलों के अपराधियों को मुंहतोड़ जवाब दिया जाएगा। आतंकवादी और उनके संरक्षक जम्मू-कश्मीर की शांति, प्रगति और समृद्धि को बाधित करने में सफल नहीं होंगे।

टारगेटिंग किलिंग का मामला

घटना गुरुवार सुबह की है। आतंकवादियों ने हाईसेकंड्री स्कूल को टॉरगेट किया। आतंकवादियों की संख्या 2-3 बताई जाती है। घटना की जानकारी लगते ही सुरक्षाबलों ने सर्चिंग शुरू कर दी है। जम्मू-कश्मीर में आतंकवादी अब आम नागरिकों को अपना निशाना बना रहे हैं। अब तक यह 7वीं घटना है। मंगलवार को ही आतंकवादियों ने एक घंटे में तीन अलग-अलग हमलों को अंजाम दिया था। इसमें 3 लोगों की मौत हो गई थी। आतंकवादियों ने कश्मीर पंडित और एक बड़ी फार्मेसी कंपनी बिंदरू मेडिकेट के मालिक माखन लाल बिंदरू की हत्या कर दी थी। एक अन्य हमले में बिहार के भागलपुर जिले के रहने वाले वीरंजन पासवान को भी गोली मार दी थी। भागलपुर जिले के जगदीशपुर थाना इलाके के सैदपुर गांव के रहने वाले 56 वर्षीय वीरंजन पिछले ढाई साल से श्रीनगर में गोलगप्पे का ढेला लगाते थे।

कश्मीर पंडित की बेटी ने दी आतंकियों को चुनौती

अपने पिता माखन लाल बिंदरू की हत्या के बाद उनकी बेटी डॉ. श्रद्धा बिंद्रू ने आतंकियों को बहस करने की चुनौती दी है। उन्होंने कहा कि वे अपने कश्मीरी पंडित पिता की बेटी हैं। आतंकियों में अगर हिम्मत है, तो उनके सामने आए और बहस करें।

Hindi News से जुड़े अन्य अपडेट लगातार हासिल करने के लिए हमें फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर फॉलो करे...